Home > India > अख़लाक़ की हत्या हुई है इंसाफ मिलेगा, फ्रीज में क्या था फर्क नहीं पड़ता

अख़लाक़ की हत्या हुई है इंसाफ मिलेगा, फ्रीज में क्या था फर्क नहीं पड़ता

akhilesh yadav file pic लखनऊ- मथुरा की लैब की आई नई रिपोर्ट के आने के बाद कि अखलाक के घर में फ्रीज में गोमांस रखा था, मामले ने और तूल पकड़ लिया है। इसे लेकर राजनीति और आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है।

इस नए दावे के बाद उत्तर प्रदेश के सीएम अखिलेश यादव ने साफ कर दिया है कि हत्यारोपियों के खिलाफ कार्रवाई होकर रहेगी। अखिलेश ने अंबेडकरनगर में कहा कि अखलाक की हत्या हुई है, उसके परिवार को इंसाफ़ मिलेगा, किसके फ्रीज में क्या रखा है, इससे फर्क नहीं पड़ता।

वहीं बीजेपी के फायरब्रांड नेता आदित्यनाथ ने कहा कि इस रिपोर्ट के बाद सब नंगे हो गए जो हंगामा कर रहे हैं। मेरी मांग है कि सरकार उन युवकों को छोड़े जिन्हें जबरदस्ती पकड़ा हुआ है।चूंकि यूपी में गोवंश अधिनियम है इसीलिए अखलाक के परिवार पर कार्रवाई हो। साथ ही यूपी सरकार सारी सरकारी सहायता वापस ले ले।

बता दें कि ग्रेटर नोएडा के बिसाहड़ा कांड मे एक नया मोड़ आ गया है। बिसाहड़ा कांड में आरोपियों के वकील का दावा है कि जिस मांस के टुकड़े को पुलिस ने अखलाक के घर से जब्त किया था वो गाय का मांस था। आरोपियों के वकील को ग्रेटर नोएडा कोर्ट से मथुरा फारेंसिक लैब की तैयार की गई सर्टिफाइड कॉपी भी मिली है। वकील के मुताबिक रिपोर्ट में लिखा गया है कि जांच के लिए भेजा गया मांस का टुकड़ा गाय या फिर उसके बच्चे का हो सकता है।

उधर, अखलाक के घर से बरामद मांस का टुकड़ा गौवंश का होने की खबर के बाद आरोपियों के परिवार ने अखलाक और उसके परिवार के खिलाफ गौहत्या का मुकदमा दर्ज़ करने की मांग की है। अखलाक की हत्या की हत्या के आरोपियों का परिवार बुधवार शाम 4 बजे पुलिस को शिकायत देगा। आरोपियों के परिवार ने ये भी मांग की है कि सरकार ने अखलाक के परिवार को जो मुआवजा दिया गया है उसे वापस लिया जाए। अगर पुलिस मुक़दमा दर्ज़ नहीं करती है तो वो कोर्ट जाएंगे।

वहीं अखलाक के बेटे सरताज ने कहा कि हमें पता है कि ये झूठा है। हम इसे कोर्ट में चैलेंज करेंगे। चूंकि मामला कोर्ट में है इसलिए ज्यादा नहीं कह सकते। पर हम इसे चैलेंज करेंगे।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com