Home > India News > सूफी कव्वाली के साथ पेश होगी बॉलीवुड की चादर

सूफी कव्वाली के साथ पेश होगी बॉलीवुड की चादर

ajmer dargah khwaja sahabअजमेेर- विश्व विख्यात सूफी संत हजरत ख्वाजा मोईनुद्दीन हसन चिश्ती के सालाना 804वाँ उर्स में हर वर्ष की भांति इस साल भी 11अप्रेल को गाजे-बाजे एवं यूपी के प्रसिद्ध कव्वालों द्वारा कव्वाली के साथ बॉलीवुड की और से चादर पेश की जायेगी।

दरगाह के खादिम सैय्यद कुतबुद्दीन सखी ने कहा कि इस बार ख्वाजा साहब के 804 वें उर्स में बॉलीवुड की और से 11 अप्रेल को ख्वाजा साहब की मजार पर चादर पेश की जायेगी। बॉलीवूड की चादर दहेली गेट से गाजे-बाजे एवं यूपी के प्रसिद्ध कव्वाल मेहराज वारसी एण्ड पार्टी द्वारा कव्वाली पेश करते हुये जुलूस के रूप में रवाना होगी, जो दरगाह के निजाम गेट होते हुये दरगाह पहुंचेगी।

इस अवसर पर बड़ी पहाड़ी से तोंपे दागी गई इससे पूर्व दरगाह गेस्ट हाऊस के सदस्यों के नेतृत्व में झंडे का जुलूस निकाला गया। जुलूस के आगे बेंड वादक सुफियाना कलामों की धुन बिखेर रहे थे वहीं शाही कव्वाल कव्वालियों के नजराने पेश कर रहे थे।

झंडे के साथ जुलूस निकलेंगे जिसमे भारी संख्या में अकीदतमंदों में झंडे लगा रहे है । लंगरखाना गली, निजाम गेट होते हुए जुलूस के दरगाह में प्रवेश करते ही शादियाने बजने आरंभ हो गए।

अकीदतमंदों की होड़ के कारण वहां काफी अफरा तफरी मच सकती है । जुलूस के दौरान व्यवस्था बनाए रखने में पुलिसकर्मियों को बड़ी मशक्कत करनी पड़ सकती है ।

जुलूस के बाद झंडे के बुलंद दरवाजे पर पहुंचते ही गरीब नवाज के गगनभेदी नारों से आसमान गूंज उठेंगा । जुलूस के बाद फातिया पढ़ी जाएँगी । और अमन चैन के लिए दुआ की जाएँगी । दरगाह में उर्स के दौरान चढ़ाया गया झंडा 1980 में नया बनाया गया था और तभी से यही झंडा हर उर्स पर चढ़ाया जाता है।

रिपोर्ट:- सुमित कलसी

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com