Home > Hot On Web > बेटी को अजनबी के साथ निवस्त्र सोते देख पिता ने किया ये

बेटी को अजनबी के साथ निवस्त्र सोते देख पिता ने किया ये

दुनिया में कोई बाप सुबह उठे और व देखे की उसकी बेटी एक अजनबी के साथ सो रही है। उसके बदन पर कोई कपड़ा नहीं है और वो बेसुध किसी की बांहों में है। बहुत मुमकिन है कि वो बाप आग-बबूला हो जाए और शायद कुछ अनहोनी कर बैठे लेकिन यहां कुछ और ही हुआ।

मैं उठा तो वो निवस्त्र सो रही थी
होलैंड के एक पिता ने रेडिट को खत लिख अपने साथ हुआ ये वाकया बताया है। जो एक आम घटना किसी भी तरह से नहीं कही जा सकती है। खत के मुताबिक ”मैं जब सुबह सीढियों से उतरा तो देखा कि मेरी 17 साल की बेटी एक जवान आदमी के साथ ऐसे बेखबर से रही है, जैसे रात में कोई बहुत मेहनत का काम किया हो।”

मैंने नाश्ता बनाया और वापस गया
मैंने चुपचाप नाश्ता बनाया और वापस जाकर अपनी दूसरी बेटी, बेटे और बीवी से कहा कि ज्यादा शोर ना करें वो नीचे सो रही है। इसके बाद मैं उन दोनो के पास पहुंचा, मेरी बेटी जहां लगभग नंगी थी। मैं चिल्लाया, दोस्तों नाश्ता तैयार है। मैंने पहले इस तरह से किसी को जागते नहीं देखा था. वो घबरा गया, उसके माथे पर पसीना था. मैंने कुर्सी खींची और कहा कि बैठो।

उसने कपड़े पहने और मेरी तरफ देखा
उसने नौजवान ने दूर पड़े अपने कपड़े उठाए, पहने और मेरी तरफ देखते हुए कुर्सी पर बैठ गया। मेरा बेटा और पत्नी उत्सुकता से मेरी तरफ देख रहे थे। मैंने उस नौजवान से पूछा कि क्या उसे बिल्लियां पसंद हैं। वो चुप रहा, मेरी बेटी ने कहा कि वो काफी भला आदमी है और वो दोनों काफी वक्त से एक-दूसरे को जानते हैं।

वो रोज मेरी बेटी को स्कूल ले जाता है
मेरी बेटी ने बताया कि वो रोज साइकिल पर उसे स्कूल लेकर जाता है और फिर वापस लेकर भी आता है। वो उसकी पढ़ाई में मदद करता है और बीमारी में भी उसका ख्याल रखता है। लेकिन ना उसके पास घर है, ना वो पढ़ा-लिखा है और ना कोई नौकरी करता है।

मैंने उसे घर की चाबी दे दी
जब मुझे पता चला कि उसके पास घर ना होने की वजह से वो दोनो काफी समय तक बाहर ही मिलते रहे तो मैंने उन्हें चाबी देकर कहा कि वो रोजाना यहीं रात को रह सकते हैं। इसके बाद उसने खूब मेहनत की और अपना बढ़िया बिजनेस खड़ा किया। ये सन 2000 की बात है और अब 17 साल बाद मेरी बेटी और इस नौजवान का अपना बिजनेस है और तीन बच्चे हैं। जिनके साथ मेरा वक्त खूब बढ़िया गुजरता है।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com