दाऊद इब्राहिम, छोटा राजन का गुर्गा एजाज लकड़ावाला अरेस्‍ट

मुंबई पुलिस ने बताया कि लकड़ावाला को बिहार की राजधानी पटना से अरेस्‍ट किया गया है। उन्‍होंने बताया कि लकड़ावाला के खिलाफ 27 मामले दर्ज हैं। मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच इन मामलों की जांच कर रही थी और उसी सिलसिले में उसे बुधवार को पटना से अरेस्‍ट किया गया। हालांकि गुरुवार को उसको गिरफ्तार करने की पुलिस ने औपचारिक घोषणा की। सूत्रों के मुताबिक, दाऊद लकड़ावाला के छोटा राजन से हाथ मिलाने की वजह से नाराज था।

अंडरवर्ल्‍ड सरगना छोटा राजन का करीबी और कभी डी कंपनी (दाऊद इब्राहिम) का गुर्गा रहा एजाज लकड़ावाला बिहार की राजधानी पटना से अरेस्‍ट कर लिया गया है। बताया जा रहा है कि लकड़ावाला नेपाल के रास्‍ते पटना पहुंचा था, जहां मुंबई पुलिस ने बिहार पुलिस की मदद से उसे दबोच लिया। लकड़ावाला मुंबई के सबसे वांछित गैंगस्‍टरों में शामिल था। वर्ष 2003 में ऐसी अफवाह थी कि बैंकाक में दाऊद गिरोह के हमले में उसकी मौत हो गई, लेकिन वह बच गया। बताया जाता है कि इस हमले के बाद लकड़ावाला बैंकाक से कनाडा चला गया और पिछले काफी समय से वहीं पर था। गिरफ्तारी के बाद एजाज लकड़ावाला को पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।

मुंबई पुलिस ने बताया कि लकड़ावाला को बिहार की राजधानी पटना से अरेस्‍ट किया गया है। उन्‍होंने बताया कि लकड़ावाला के खिलाफ 27 मामले दर्ज हैं। मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच इन मामलों की जांच कर रही थी और उसी सिलसिले में उसे बुधवार को पटना से अरेस्‍ट किया गया। हालांकि गुरुवार को उसको गिरफ्तार करने की पुलिस ने औपचारिक घोषणा की। सूत्रों के मुताबिक, दाऊद लकड़ावाला के छोटा राजन से हाथ मिलाने की वजह से नाराज था।

मुंबई पुलिस के संयुक्‍त पुलिस कमिश्‍नर ने बताया कि एजाज की बेटी से पूछताछ के बाद पुलिस को काफी सूचना मिली थी। इसी दौरान पता चला कि एजाज लकड़ावा 8 जनवरी को पटना आ रहा है। इसके बाद पटना पुलिस की मदद से एजाज को अरेस्‍ट कर लिया गया। पुलिस ने बताया कि पिछले 6 महीने से एजाज को पकड़ने के लिए कार्रवाई चल रही थी जिसमें अब जाकर सफलता मिली। पुलिस से बचने के लिए लकड़ावाला यूएस, मलेशिया, यूके, नेपाल भी रह चुका है।

पुलिस ने बताया पहले लकड़ावाला दाऊद के साथ था लेकिन छोटा राजन के अलग होने पर वह उसके साथ चला गया। वर्ष 2008 में लकड़ावाला छोटा राजन से अलग हो गया और अपना स्‍वतंत्र गैंग बना लिया। हालांकि, कथित रूप से अलग गैंग बनाने के बाद भी वह छोटा राजन के संपर्क में बना रहा। इससे पहले मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर भगोड़े गैंगस्टर एजाज लकड़ावाला की बेटी को फर्जी पासपोर्ट पर विदेश भागने के प्रयास के लिए पकड़ लिया गया था। एक खबर के अनुसार सोनिया लकड़ावाला उर्फ सोनिया शेख शुक्रवार देर रात नेपाल जाने वाली एक उड़ान में सवार होने वाली थी, तभी पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया और उसके दस्तावेजों की जांच करने के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया।

मुंबई पुलिस ने बताया कि लकड़ावाला को बिहार की राजधानी पटना से अरेस्‍ट किया गया है। उन्‍होंने बताया कि लकड़ावाला के खिलाफ 27 मामले दर्ज हैं। मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच इन मामलों की जांच कर रही थी और उसी सिलसिले में उसे बुधवार को पटना से अरेस्‍ट किया गया। हालांकि गुरुवार को उसको गिरफ्तार करने की पुलिस ने औपचारिक घोषणा की। सूत्रों के मुताबिक, दाऊद लकड़ावाला के छोटा राजन से हाथ मिलाने की वजह से नाराज था।

मुंबई पुलिस के संयुक्‍त पुलिस कमिश्‍नर ने बताया कि एजाज की बेटी से पूछताछ के बाद पुलिस को काफी सूचना मिली थी। इसी दौरान पता चला कि एजाज लकड़ावा 8 जनवरी को पटना आ रहा है। इसके बाद पटना पुलिस की मदद से एजाज को अरेस्‍ट कर लिया गया। पुलिस ने बताया कि पिछले 6 महीने से एजाज को पकड़ने के लिए कार्रवाई चल रही थी जिसमें अब जाकर सफलता मिली। पुलिस से बचने के लिए लकड़ावाला यूएस, मलेशिया, यूके, नेपाल भी रह चुका है।

पुलिस ने बताया पहले लकड़ावाला दाऊद के साथ था लेकिन छोटा राजन के अलग होने पर वह उसके साथ चला गया। वर्ष 2008 में लकड़ावाला छोटा राजन से अलग हो गया और अपना स्‍वतंत्र गैंग बना लिया। हालांकि, कथित रूप से अलग गैंग बनाने के बाद भी वह छोटा राजन के संपर्क में बना रहा। इससे पहले मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर भगोड़े गैंगस्टर एजाज लकड़ावाला की बेटी को फर्जी पासपोर्ट पर विदेश भागने के प्रयास के लिए पकड़ लिया गया था। एक अधिकारी ने बताया था कि सोनिया लकड़ावाला उर्फ सोनिया शेख शुक्रवार देर रात नेपाल जाने वाली एक उड़ान में सवार होने वाली थी, तभी पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया और उसके दस्तावेजों की जांच करने के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया।- TNN