Home > India > स्वाति सिंह को जान का खतरा, दयाशंकर गायब !

स्वाति सिंह को जान का खतरा, दयाशंकर गायब !

BJP-Leader Dayshankar Missing-his wife swati singh life in danger in mayawati state upलखनऊ- मायावती पर विवादास्पद बयान देने के बाद बीजेपी से निष्कासित नेता दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति सिंह को उत्तर प्रदेश सरकार ने सुरक्षा मुहैया कराई है। लखनऊ जोन के पुलिस महानिरीक्षक को इसके लिए निर्देश जारी कर दिया है।

दयाशंकर के बयान के बाद बहुजन समाज पार्टी के कार्यकर्ताओं ने स्वाति और उनकी बेटी को लेकर सरेआम गालियां दी थीं और अभद्र नारे लगाए थे। जिसके बाद स्वाति सिंह ने कहा था कि उनकी बेटी बहुत डर गई है और सदमे में हैं। स्वाति ने कहा था कि प्रदर्शन के बाद वो घर से बाहर निकलने में भी डर रही हैं।

इसके लखनऊ जोन के पुलिस महानिरीक्षक ए सतीश गणेश को निर्देश जारी किया गया है कि बीजेपी निष्कासित नेता दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति को सुरक्षा मुहैया कराई जाए।

दयाशंकर सिंह की पत्नी स्वाति सिंह ने कहा कि उन्हें उनकी बेटी के लिए न्याय चाहिए। स्वाति ने बसपा सुप्रीमो मायावती और बीएसपी नेता नसीमुद्दीन सिद्दीकी पर पॉक्सो एक्ट के तहत कार्रवाई की मांग की है।

दयाशंकर गायब !
बलिया में बीएसपी चीफ मायावती के खिलाफ अमर्यादित टिप्पणी करने के बाद बीजेपी से निकाले जा चुके दयाशंकर सिंह की गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है। बता दें, कि बीएसपी प्रमुख मायावती को अपशब्द कहने के बाद बीजेपी ने बुधवार को दयाशंकर को पार्टी से निकाल दिया। बुधवार रात ही लखनऊ के हजरतगंज थाने में दयाशंकर पर मुकदमा दर्ज किया गया। इसके बाद उनकी गिरफ्तारी के प्रयास शुरू हो गए।

दयाशंकर सिंह बुधवार की शाम तक बलिया में ही थे, लिहाजा यहां हलचल और भी तेज हो गई। गुरुवार की सुबह सीओ सिटी के.सी. सिंह के नेतृत्व में पुलिस दयाशंकर सिंह के आवास पर आ धमकी लेकिन दयाशंकर वहां नहीं मिले। उनका मोबाइल भी स्विच ऑफ है। आवास पर मौजूद उनके भाई ने बताया कि दयाशंकर सिंह भोर में ही गोरखपुर चले गए।

बता दें, कि राजधानी लखनऊ समेत कई जिलों में दयाशंकर की तलाश की जा रही है। भारत- नेपाल बॉर्डर पर एलर्ट जारी कर दिया गया है। यूपी के एडीजी एलओ दलजीत चौधरी ने बताया कि लखनऊ स्थित उनके घर पुलिस टीम ने छापा मारा लेकिन दयाशंकर घर पर नहीं मिले।
बताया गया है कि दयाशंकर के खिलाफ 153-A, 504, 509 और एससी-एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज हुआ है। दयाशंकर के खिलाफ जिन धाराओं में मामला दर्ज हुआ है, उनमें सात साल से कम की सजा का प्रावधान है।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com