Home > Business > सूखे पर महंगाई की बारिश ! जानिए आज बढ़े ‘सर्विस टैक्स’ का असर

सूखे पर महंगाई की बारिश ! जानिए आज बढ़े ‘सर्विस टैक्स’ का असर

rupeeनई दिल्ली- जहाँ एक तरफ किसान हो या आम आदमी हर तरफ भीषण गर्मी और सूखे की मार से पीड़ित है राहत लिए बेहतर बारिश इंतज़ार में हैं वहीँ सरकार हर वर्ग पर महंगाई की बारिश कर रही है ! बता दें कि आज से बढ़ा हुआ सर्विस टैक्स लागू होने की वजह से आपके लिए काफी कुछ मंहगा होने चला है।

दरअसल, सरकार ने सर्विस टैक्स 14.5% से बढ़कर 15% कर दिया है। 2016-17 के आम बजट में कृषि कल्याण सेस लगाने का ऐलान किया गया था। सभी टैक्सेबल सर्विसेज़ पर 0.5 फ़ीसदी के हिसाब से लगेगा जोकि सर्विस टैक्स के हिस्से के रूप में ही होगा। सरकार को इससे 5,000 करोड़ रुपये के अतिरिक्त टैक्स कलेक्शन की उम्मीद है। इसका इस्तेमाल किसान और कृषि क्षेत्र से जुड़े लोगों की बेहतरी के लिए किया जाना है। हालांकि आपको बता दें कि सिर्फ़ एक साल में ही 2.64% सर्विस टैक्स बढ़ गया है।

किन सेवाओं और वस्तुओं पर पड़ेगा असर-
बीमा सेवाएं और उनका नवीनीकरण करना
मकान खरीदना महंगा
बैंक ड्राफ़्ट, मनी ट्रांसफ़र और एसएमएस अलर्ट जैसी सुविधाएं
मोबाइल, डीटीएच, बिजली और आपके पानी के बिल
रेस्टोरेंट में खाना-पीना महंगा हुआ
रेल और हवाई यात्रा के टिकट महंगे हुए
माल ढुलाई, पंडाल और कैटरिंग सेवाएं भी महंगी हुई
फ़िल्म देखना और ब्यूटी पार्लर जाना

पिछले साल वित्तमंत्री ने सर्विस टैक्स 12.36 प्रतिशत से बढ़ाकर 14 प्रतिशत कर दिया था। पिछले ही साल नवंबर में स्वच्छ भारत अभियान के लिए फंड जुटाने के लिए इसे 0.50 प्रतिशत और बढ़ा दिया गया था। तब यह बढ़कर 14.50 प्रतिशत हो गया था। बता दें कि सर्विस टैक्स (सेवाकर) कुछ सेवाओं को छोड़कर लगभग सभी सेवाओं पर लगाया जाता है।

10 लाख रुपए से ऊपर की कार खरीदने का विचार है तो…
10 लाख रुपए से ऊपर की कार खरीदने जा रहे हैं तो आपको उन कारों की खरीद पर 1 फीसदी टैक्स देना होगा। यह कीमत कार की कुल कीमत के अतिरिक्त होगी। 2016-17 के लिए बजट का ऐलान करते हुए अरुण जेटली ने इस कर का भी ऐलान किया था जिसे आज यानी 1 जून से लागू हो जाना है।

7 महीने बाद कच्चे तेल का दाम पहुंचा उच्‍चतम स्तर पर
अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में बढ़ोतरी और डॉलर के मुकाबले रुपये के भाव में उतार-चढ़ाव के मद्देनजर यह वृद्धि की गई है। इसके साथ ही तेल कंपनियों ने घरेलू एलपीजी सिलेंडर की कीमत में 22 रुपये, पांच किग्रा के छोटे सिलेंडर की कीमत में 7.50 रुपये और 19 किग्रा के व्यावसायिक सिलेंडरों की दर में 37 रुपये की बढ़ोत्तरी कर उपभोक्ताओं को झटका दिया है।
… पेट्रोल डीजल की कीमतों में इजाफा
इसी के साथ बता दें कि पेट्रोल और डीजल की कीमतों में भी बढ़ोतरी 12 बजे से लागू हो गई है। पेट्रोल को 2.58 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत में 2.26 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई है। मई में पेट्रोल-डीजल की कीमत में दूसरी बार यह बढ़ोतरी की गई। जाहिर है यह भार भी आपको सेवाओं और वस्तुओं की कीमतों में बढ़ोतरी के साथ साथ झेलना होगा।

डीजल के दामों में छठी बार बढ़ोतरी
पेट्रोल के दामों में यह लगातार पांचवी बढ़ोतरी है, जबकि डीजल के दामों में यह छठवीं बार हुई बढ़ोतरी है ! इससे पहले 16 मई को 0.83 रुपये पेट्रोल और डीजल 1.26 रुपये हुआ महंगा कर दिया गया था ! वहीं 30 अप्रैल को पेट्रोल की कीमतों में 1.06 रुपये प्रति लीटर का इजाफा हुआ, जबकि डीजल 2.94 रुपये महंगा हो गया था ! इससे पहले 04 अप्रैल को पेट्रोल की कीमतों में 2.19 रुपये प्रति लीटर का इजाफा हुआ, जबकि डीजल 98 पैसे महंगा हो गया था ! उसके पहले 16 मार्च को पेट्रोल की कीमतों में 3 रुपये 7 पैसे और डीजल की कीमतों में 1 रुपये 90 पैसे का इजाफा हुआ था ! 17 फरवरी को भी पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव किया गया था ! तब पेट्रोल के दाम 32 पैसे प्रति लीटर कम किए गए थे, जबकि डीजल 28 पैसे प्रति लीटर महंगा हो गया था !

दिल्ली की ही बात करें तो पेट्रोल अब 65.60 रुपये प्रति लीटर और डीजल 53.93 रुपये प्रति लीटर मिलेगा। पिछली बार 17 मई को इनकी कीमतों में इजाफा किया गया था।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com