जानिए: coronavirus से लड़ाई के लिए केजरीवाल ने बनाया 5-T प्‍लान

केजरीवाले ने कहा कि शुक्रवार से हम कोरोना वायरस के रैपिड टेस्ट करेंगे। हम अचानक ही कहीं भी जाकर टेस्ट करेंगे। अगले कुछ दिनों में एक लाख टेस्ट किए जाएंगे। केंद्र सरकार से हमें शुक्रवार तक टेस्टिंग किट मिल जाएंगी। वहीं ट्रेसिंग के बारे में बताते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जो अपने घरों में क्वारंटाइन हैं, उनके बारे में हम पुलिस की मदद से ऐसे लोगों का पता लगाएंगे जो क्वारंटाइन में नियमों का पालन कर रहे हैं या नहीं।नई दिल्‍ली: दिल्ली में कोरोना को रोकने के लिए केजरीवाल सरकार ने 5 टी प्लान बनाया है। प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर केजरीवाल ने कहा कि अगर आप सोते रहे तो कोरोना आपको मात देगा। उन्‍होंने अपने 5 टी प्‍लान के बारे में भी बताया।

ये हैं वो 5 टी प्‍लान
टेस्टिंग
ट्रेसिंग
ट्रीटमेंट
टीम वर्क
ट्रैंकिंग और मॉनिटरिंग

टेस्‍टिंग को लेकर केजरीवाले ने कहा कि शुक्रवार से हम कोरोना वायरस के रैपिड टेस्ट करेंगे। हम अचानक ही कहीं भी जाकर टेस्ट करेंगे। अगले कुछ दिनों में एक लाख टेस्ट किए जाएंगे। केंद्र सरकार से हमें शुक्रवार तक टेस्टिंग किट मिल जाएंगी। वहीं ट्रेसिंग के बारे में बताते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जो अपने घरों में क्वारंटाइन हैं, उनके बारे में हम पुलिस की मदद से ऐसे लोगों का पता लगाएंगे जो क्वारंटाइन में नियमों का पालन कर रहे हैं या नहीं।

इसके अलावा ट्रीटमेट प्‍लान के बारे में केजरीवाल अब तक 526 कोरोना के मामले सामने आए हैं। कुल 3000 बेड तैयार कर लिए हैं, जिसमें सिर्फ कोरोना मरीजों को ही रखा जाएगा। जो भी कोरोना पीड़ित होगा उसका इलाज कराया जाएगा। हमने योजना बनाई है, जिसमें 30,000 तक मरीज हो जाएंगे, तो भी हमारे पास पूरे इंतजाम हैं। 12,000 होटल के कमरे टेकओवर किए जाएंगे। 2450 बेड सरकारी अस्पताल में हैं, जबकि बाकी बचे बेड निजी अस्पतालों से लिए गए हैं।

टीम वर्क के बारे में बताते हुए केजरीवाल ने कहा कि कोई भी अकेला कोरोना के खिलाफ लड़कर जंग नहीं जीत पाएगा। ऐसे में टीम वर्क के साथ काम करना होगा। हम एक-दूसरे से सीखकर भी काम कर सकते हैं। हमें डॉक्टरों और नर्सों की सुरक्षा और रक्षा करनी होगी। उसी तरह ट्रैंकिंग और मॉनिटरिंग के बारे में सीएम केजरीवाल ने कहा कि योजना का क्रियान्यवयन कैसे हो रहा है? इसकी ट्रैकिंग और मॉनिटरिंग होगी।

देश भर में बढ़ रहे हैं मामले भारत में कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी लगातार जारी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, देश में COVID-19 के 3981 एक्टिव केस हैं, जबकि अब तक 4421 कन्फर्म केस सामने आए हैं। भारत में कोरोना वायरस से अब तक 114 लोगों की जान जा चुकी है। 325 ठीक/डिस्चार्ज हो चुके हैं। कुल कन्फर्म केस में एक माइग्रेटेड मरीज भी शामिल है।