Home > India > केजरीवाल का #TalkToAK शुरू, आप भी कर सकते है प्रश्न

केजरीवाल का #TalkToAK शुरू, आप भी कर सकते है प्रश्न

talktoakनई दिल्ली : मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल रविवार की सुबह 11 बजे टेलीफोन पर जनता के सवालों का सीधा जवाब देंगे। इस बाबत कोई भी टेलीफोन नंबर 011-23392999 पर फोन करके मुख्यमंत्री से सवाल कर सकता है। इतना ही नहीं, ‘टॉक टू एके’ नाम के इस कार्यक्रम को लोग वेबसाइट http://www.talktoak.com/  पर देख भी सकते हैं।

यहां पर बता दें कि टेलीफोन के अलावा वेबसाइट और एसएमएस के जरिये भी हजारों सवाल मुख्यमंत्री को भेजे जा चुके हैं। कार्यक्रम का संचालन बॉलीवुड की जानी-मानी हस्ती विशाल डडलानी करेंगे।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हर महीने होने वाले ‘मन की बात’ की तर्ज पर दिल्ली सरकार ने ‘टॉक टू एके’ कार्यक्रम शुरू किया है। दिल्ली सरकार के जल मंत्री कपिल मिश्रा तंज कसते हुए कह चुके हैं, ‘बहुत पके सुनकर दूसरों के मन की बात, अब अरविंद केजरीवाल से कहिए अपने मन की बात।’

इस आयोजन को सफल बनाने के लिए दिल्ली सरकार और आम आदमी पार्टी ने पूरी ताकत झोंक दी है। सोशल मीडिया पर धुआंधार प्रचार किया गया है। आयोजन को लेकर एक करोड़ लोगों को मैसेज भेजा गया है।

सरकार के प्रवक्ता नागेंद्र शर्मा का कहना है कि यह कार्यक्रम एक घंटे तक चलेगा। इस कार्यक्रम का विश्लेषण करने के बाद इस बात पर फैसला किया जाएगा कि यह प्रोग्राम हर महीने हो या नहीं। बताया जा रहा है कि अरविंद केजरीवाल की इच्छा है कि हर माह वे जनता से रूबरू हों। शर्मा ने कहा कि लोग टेलीफोन के जरिये भी सवाल पूछ सकेंगे। कार्यक्रम ठीक 11 बजे शुरू होगा।

सरकार से जुड़े सूत्रों का कहना है कि आयोजन को लेकर लोगों में इतनी उत्सुकता है कि दिल्ली सरकार द्वारा कुछ दिन पहले लॉन्च की गई वेबसाइट पर अब तक 15 हजार से भी अधिक सवाल आ चुके हैं, जिनकी स्क्रीनिंग की जा रही है। इसके अलावा इस वेबसाइट को सोशल मीडिया के दूसरे प्लेटफार्म मसलन, फेसबुक, यूट्यूब, ट्विटर से जोड़ा गया है, जिससे अलग-अलग प्लेटफार्म से लोग मुख्यमंत्री से सीधे सवाल कर सकें।

असल में आप सरकार के दिल्ली में 17 महीने के कार्यकाल में पार्टी के आठ विधायक अलग-अलग मामलों में गिरफ्तार हो चुके हैं। सरकार के मंत्री के बाद मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव भी गिरफ्तार हुए हैं। आप और सरकार इसको केंद्र की मोदी सरकार की साजिश बता रही है।

ऐसे में जनता में पार्टी और सरकार के प्रति नकारात्मक संदेश न जाए, इसलिए केजरीवाल सीधे आम लोगों से बात करने का कार्यक्रम शुरू कर रहे हैं। हालांकि, इससे पहले केजरीवाल गूगल हैंगआउट के जरिये पहले भी सवाल-जवाब के कार्यक्रम में शामिल होते रहे हैं, लेकिन वह आम जनता के लिए नहीं केवल पार्टी वालंटियर्स के लिए थे।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com