mohan bhagwat digvijayनई दिल्ली – सांप्रदाय‌िक राजनीति के माहौल और समुदाय विशेष के वोट बैंक पर हो रही राजनीत‌ि पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने चौंकाने वाला बयान दिया है। हालांकि उनका यह बयान देश के हिन्दू और मुसलमानों को तोड़ने की बजाए जोड़ने का काम कर सकता है।

एक टीवी चैनल को दिए बयान में दिग्विजय सिंह ने कहा है कि मुस्लिम लीग और आरएसएस को अंग्रेजों ने बनाया था। उन्होंने कहा कि इन संगठनों को अंग्रेजों ने इसलिए तैयार किया कि वे देश में हिन्दू और मुसलमान के बीच फूट डालकर यहां शासन कर सकें।

मुसलमानों की रहनुमाई करने वाले ऑल इंडिया मुस्लिम लीग की स्‍थापना देश में अंग्रेजी शासन के दौरान 1906 में हुई थी। गौरतलब है कि देश का बंटवारा मुस्लिम लीग की मांग पर ही पाकिस्तान का निर्माण हुआ था। वहीं हिंदूवादी संगठन राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ का गठन 1925 में हुआ था।

हाल ही में विश्व हिन्दू परिषद की ओर चलाए जा रहे घर वापसी कार्यक्रम पर एमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था कि दुनिया में पैदा होने वाला हर इंसान मुसलमान होता है। उन्होंने कहा कि जब तक पूरी दुनिया के लोग मुसलमान नहीं बन जाते तब तक असली घर वापसी नहीं होगी।

इसके बाद भाजपा के सांसद साक्षी महाराज ने मेरठ में आयोजित एक धार्मिक सभा के दौरान कहा हिंदुओं को कमसे कम चार बच्चे पैदा करने का बयान दिया था। उनके इस बयान पर जमकर सियासी हंगामा हुआ भी हुआ था।

गौरतलब है कि दो‌ दिन पहले ही एक धर्म विशेष के लोगों ने पेरिस में एक कार्टून प‌त्रिका के दफ्तर पर हमला कर 10 पत्रकारों समेद 12 लोगों को मौत के घाट उतार दिया था। इस पेरिस में हुए इस हमले से दुनिया भर में धार्मिक कट्टरता के खिलाफ आवाज उठ रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here