माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई से बौखलाई बीजेपी कर रही खेल : दिग्विजिय सिंह

दिग्विजय ने कहा कि कमलनाथ सरकार माफियाओं के खिलाफ दबंगई से कार्रवाई कर रही है। कमलनाथ जी ने हर तरह के माफिया के खिलाफ जो कार्रवाई की है, उससे ये घबराए हुए हैं। उन्होंने कहा, ’15 साल तक ई-टेंडरिंग में, व्यापम में, माध्य में जो घोटाला किया, इन सबकी परतें खुलती जा रही हैं। हनी ट्रैप में भी बीजेपी नेता फंसे हैं। इनकी भी परतें खुलेंगी। उन सबसे भयभीत होकर सरकार पलटना चाहते हैं।’

दिग्विजय सिंह ने बीजेपी नेता शिवराज सिंह चौहान पर भी झूठ बोलने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि शिवराज का यह कहना कि उनका मध्य प्रदेश की राजनीति में मचे ताजा बवाल से कोई लेनादेना नहीं है, यह सफेद झूठ है। दिग्विजय ने पूछा कि अनिल भदौरिया और तिवारी को बेंगलुरु किसने भेजा? उन्होंने कहा, ‘संभव है कि शिवराज इस खेल में शामिल नहीं हों, लेकिन नरोत्तम मिश्रा शामिल हो सकते हैं या फिर अमित शाह शामिल हो सकते हैं। जो भी हों, लेकिन बीजेपी जरूर खेल कर रही है।’


गौरतलब है कि आज सुबह जब संवाददाताओं ने शिवराज सिंह से मध्य प्रदेश के ताजा घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया मांगी तो उन्होंने कहा कि यह कांग्रेस के अंदर फूट के कारण हो रहा है, इससे उन्हें कुछ लेनादेना नहीं है। दिग्विजिय से जब पूछा गया कि क्या उन्हें लगता है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस में बने रहेंगे तो उन्होंन साफ कहा कि यह तो उनसे ही पूछा जाना चाहिए।

मध्य प्रदेश सरकार का संकट
मध्य प्रदेश सरकार के छह मंत्री समेत कुल 17 विधायक बेंगलुरु में हैं। ये सभी ज्योतिरादित्य सिंधिया गुट के माने जाते हैं। कहा जा रहा है कि इन सभी ने अपने फोन बंद कर लिए हैं। चर्चा है कि सिंधिया अपने समर्थकों के साथ या तो बीजेपी जॉइन करने वाले हैं या फिर वह कांग्रेस से कोई बड़ी बात मनवाना चाहते हैं। हालांकि, अभी इस बारे में ज्योतिरादित्य सिंधिया का कोई भी बयान नहीं आया है।