Pravin Togadiaनई दिल्ली – गाय और गो हत्या पर विवाद और बयानों का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। अमूमन अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाली विश्व हिंदू परिषद की नेता साध्वी प्राची ने विजयादशमी के अवसर पर एक कार्यक्रम के दौरान दिल्ली के जहांगीरपुरी में कहा कि शास्त्रों की रक्षा करना आवश्यक है इसलिए हमें शस्त्र उठाना होगा।

उन्होंने कहा कि गौ माता की रक्षा के लिए शस्त्र उठाना जरूरी है। मोहर्रम पर विवादित बयान देते हुए उन्होंने कहा कि मोहर्रम में खुले आम हथियार लहराए जाते हैं तब कोई कुछ नहीं कहता। साध्वी के इस कार्यक्रम के दौरान खुले में तलवारें भी लहराई गईं।

वहीं आज वीएचपी नेता प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि गोहत्या करने वालों को खुद नरेंद्र मोदी भी नहीं बचा सकते। उन्होंने कहा कि ‘गोहत्या कर के कोई भारत में नहीं रह सकता, ये भ्रम नहीं रखना चाहिए कि मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव या नरेंद्र मोदी ऐसे लोगों को बचा लेंगे।’

उन्होंने आगे कहा कि ‘मुसलमान हिंदू की भावना का आदर करें और गोहत्या की बंदी के कानून का पालन करें। कोई कानून का उल्लंघन करके हिंदू भावना का अपमान करना चाहेगा तो जवाब मिलेगा। कोई हिंसक जवाब देगा तो कोई शांत लेकिन प्रतिक्रिया जरूर आएगी।’

राम मंदिर के मुद्दे पर तोगड़िया ने कहा कि ‘राम मंदिर बनाने का एक ही रास्ता है जिस तरह से सोमनाथ मंदिर बना था। इसी तरह सरदार पटेल ने भी किसी से कोई सहमति नहीं ली थी। अब राम मंदिर के लिए भारत की संसद में कानून बने, वही एक रास्ता है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here