dk-raviबेंगलुरु – भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी डीके रवि की रहस्मयी मौत को लेकर बढ़ते जनाक्रोश के बीच कर्नाटक में कई आईएएस अधिकारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संबोधित एक ऑनलाइन याचिका पर हस्ताक्षर किया है।

इस याचिका में रवि की मौत के मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग की गई है। ऑनलाइन याचिका की शुरुआत ‘उत्तिष्ठ भारत’ ट्रस्ट की ओर से शुरु की गई थी। अब तक इस पर 13.58 लाख लोगों ने इस पर हस्ताक्षर कर चुके हैं।

हालांकि, कर्नाटक सरकार ने कहा कि इस मामले में की गई सीआईडी जांच पर्याप्‍त है और उसने सीबीआई जांच कराने से इंकार कर दिया। कर्नाटक के मुख्‍यमंत्री सिद्धरमैया ने कहा कि यह मामला ऐसा नहीं है, जिसे सीबीआई को सौंपा जाए।

अतिरिक्‍त मुख्य सचिव (पर्यावरण एवं वन) गोपाल ने कहा कि मामले को सीबीआई को सौंपा जाना चाहिए क्योंकि दिवंगत आईएएस अधिकारी का चरित्र हनन करने का भी प्रयास हो रहा है। रवि की दूसरी बार हत्‍या करने की कोशिश की जा रही है। हम ऐसा नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि उनके अलावा पंकज पांडेय, समीर शुक्ला और श्रीवस्त श्रीकृष्णा नामक आईएएस अधिकारियों ने याचिका पर हस्ताक्षर किए हैं।

रवि की मौत मामले में उनकी मां गौरम्मा ने इंसाफ की मांग करते हुए सीबीआई जांच की मांग की है। इससे पहले रवि की मां गौरम्‍मा, उनके भाई, चाचा और दूसरे रिश्‍तेदार रवि के लिए न्‍याय की मांग कर रहे हैं। उनकी मांग थी की उनके साथ इंसाफ किया जाए और सरकार पुख्ता तौर पर साबित करे कि रवि की हत्या नहीं की गयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here