Home > State > Delhi > बेटी बचाओ, बेटी पढाओ की प्रगति खराब तो DM होंगे जबाबदार- मेनका

बेटी बचाओ, बेटी पढाओ की प्रगति खराब तो DM होंगे जबाबदार- मेनका

menka gandhi

नई दिल्ली- भारत सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा आयोजित देश के इतिहास की प्रथम ऑल इंडिया वूमेन जर्नलिस्ट्स वर्कशाप के अवसर पर देश के 30 राज्यों एवं केन्द्र शासित प्रदेश की 250 महिला पत्रकारों ने हिस्सा लिया।

नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित एक दिवसीय कार्यशाला के दौरान जहां प्रत्येक राज्यों से आयी हुई महिला पत्रकारों ने एक दूसरे से परिचय प्राप्त किया तो वहीं दूसरी ओर भारत सरकार द्वारा किये गये दो वर्षों में महिलाओं के हितों के कार्यो एवं भविष्य की योजनाओं पर जानकारी भी प्राप्त की।

इस अवसर पर प्रश्नों के उत्तर भी दिये गये तथा महिला पत्रकारों की राष्ट्र निर्माण में होने वाली भूमिका को भी बतलाया गया। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने उपस्थित महिला पत्रकारों को संबोधित करते हुये भारत सरकार के कार्यों को विस्तार से रखा। उपस्थित सभी पत्रकारों का स्वागत शब्दों के माध्यम से करते हुये आग्रह किया कि वह सभी अपनी कलम के माध्यम से महिलाओं के हितों में आवाज उठाते हुये भारत सरकार की योजनाओं की जानकारी जन-जन तक पहुंचाने में अहम भूमिका का निर्वाहन करें।

ज्ञात हो कि देश की प्रथम महिला पत्रकारों की कार्यशाला का आयोजन नई दिल्ली में किया गया था। जिसमें उनके आने-जाने,भोजन, ठहरने की व्यवस्था एक फाईव स्टार होटल में किया गया था। दो सत्रों में आयोजित उक्त कार्यशाला में एक नये अनुभव तथा ज्ञान प्राप्त करने का शुभ अवसर देश भर की महिला पत्रकारों को मिला।

तो कलेक्ट्रर की सीआर में होगा दर्ज-
मेनका गांधी ने कहा कि भारत सरकार लगातार महिलाओं के हितों को लेकर कार्य कर रही है तथा इसके लिये महिला बाल विकास विभाग द्वारा बेटी बचाओ,बेटी पढाओ योजना का संचालन किया जा रहा है। लडकियों के संरक्षण एवं संवर्धन के लिये अभियान चलाया जा रहा है। इसकी प्रगति पर लगातार नजर रखी जा रही है । कहा कि जिस जिले की रिपोर्ट खराब होगी उस जिले के कलेक्ट्रर से में वह स्वयं वीडियो कांन्फेंसिंग के द्वारा बात करेंंगी। कलेक्ट्रर सीधे मुझे रिपोर्ट करेंगे अगर किसी जिले के कलेक्ट्रर इसमें कोताही बरतते हैं तो उनके सीआर में इस बात का इंद्राज किया जायेगा।

महिला पत्रकार करेंगी सीधे बात-
मेनका गांधी ने कहा कि जिले एवं क्षेत्र की महिलाओं से जुडी समस्याओं को लेकर की गयी शिकायत पर अधिकारी कार्यवाही नहीं करते हैं तो वह सीधे मुझे रिपोर्ट करेंगी। अगर उस जिले के संबधित अधिकारी समस्याओं पर ध्यान नहीं देते हैं तो अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी।

आंगनवाडी पर नजर-
मेनका गांधी ने कहा कि आंगन वाडियों पर लगातार नजर रखी जा रही है। अच्छे कार्यकर्ता को दस बर्ष के कार्यकाल के मद्देनजर सुपर वाईजर बनाया जायेगा। कार्यकर्ताओं को मोबाईल,टेबलेट भी उपलब्ध कराये जायेंगे।
इन पर भी विस्तार से जानकारी-

मेनका गांधी ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा को लेकर मंत्रालय द्वारा लगातार कार्य किया जा रहा है। बेटी बचाओ,बेटी पढाओ,महिला ई-हार्ट,मोबाईल पर पैनिक बटन,वैवाहिक बेबसाईटों पर नजर एवं दिशा निर्देश,पुलिस बल में 33 प्रतिशत आरक्षण ,जेंडर चेंपियन स्कीम,जैसी योजनाओं की जानकारी,क्रियान्वयन तथा विस्तार से बात रखी।

पी-पी पर नजर,महिला जन प्रतिनिधिओं का प्रशिक्षण-
श्रीमती मेनका गंाधी ने कहा कि देखा गया है कि चुनकर आयी महिला सरपंच,पार्षदों के पति कार्य करते हैं जो गलत है इसके लिये एक प्रशिक्षण महिला जनप्रतिनिधियों के लिये कराने की योजना है।

गृहणियों को रोजगार-
मेनका गांधी ने कहा कि गृहणियों को जो कि छोटे व्यापार करने में दक्ष हैं के लिये जैसे लड्डू,अचार,पापड,बडी,मेंहदी,हेंडलूम,हेण्डीक्राप्ट जैसे कार्य करती है या जानती है के लिये सीधे मंत्रालय द्वारा मदद की जायेगी। इसके लिये एक पोर्टल महिला ए हाट के नाम से बनाया गया है। जिसमें महिलायें सीधे आवेदन कर सकेगी।

गोद लेने की प्रक्रिया आसान-
मेनका गांधी ने बतलाया कि अनाथ बच्चों को गोद लेने की प्रक्रिया के सरलीकरण पर ध्यान दिया जा रहा है। सीएआरए यानि सेन्ट्रल एडाप्शन रिसोर्ट एजेंसी नाम का प्रोजक्ट अनाथ बच्चों को एक नया जीवन प्रदान करेगा।
मंत्री निर्मला सीतारमण ने किया संबोधित-

कार्यशाला के द्वितीय सत्र में मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने भारत सरकार के द्वारा किये गये दो बर्षो के कार्यकाल को विस्तार से रखा। इन्होने कहा कि लगातार राष्ट्र की मजबूती को लेकर प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी कार्य कर रहे हैं उनके कहने पर में उनके प्रतिनिधि के रूप में आपके सामने आपसे बात करने आयी हूं। श्रीमती सीतारमण ने महिला बाल विकास द्वारा किये जा रहे कार्यों की जमकर तारीफ की। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास की सचिव लीना नायर ने आयोजन के प्रयोजन के विषय में अपनी बात रखी।

अपना सा लगा महिला पत्रकारों को-
इस अवसर एक अलग अनुभव अपनापन सा महसूस करते महिला पत्रकारों को देखा गया जब केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी स्वयं उनके बीच पहुंची। उन्होने रात्रि एवं दिन का भोजन सबके साथ किया तथा एक-एक से मिलकर चर्चा की तो उनके साथ जमकर फोटो भी खिंचवाई।  गांधी ने देश भर से आयी महिला पत्रकारों के प्रश्रों के उत्तर भी दिये।

मध्यप्रदेश से बारह महिला पत्रकारों ने की सहभागिता-
मध्यप्रदेश की जिन चुनिंदा पत्रकारों को इसके लिये आमंत्रित किया गया था उसमें डा.हंसा वैष्णव हिन्दुस्थान समाचार दमोह,रजनी दुबे ईटीव्ही भोपाल,श्रृति जैन अक्षर विश्व भोपाल,रजनी घोष नई दुनिया भोपाल,रूबी सरकार देशबंधु भोपाल,नाज पटेल ईटीव्ही इंदौर,रीना शर्मा पत्रिका इंदौर,आरती शर्मा सांध्य प्रकाश भोपाल,कविता मंधारे हलचल ग्वालियर, इंद्रा राजेश मंगल आईटाईम्स ग्वालियर,रजनी खेतान डीडी न्यूज इंदौर एवं साईदा जावेद डेली हिन्दी एक्शन भोपाल हैं।

dr. Laxminarayan Vaishnava@डॉ. लक्ष्मीनारायण वैष्णव

Facebook Comments

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .