DOCTORइंदौर- भगवान का दूसरा रूप कहे जाने वाले डॉक्टर्स ने आज कलयुगी रावण का रूप ले लिया है ! कलयुग में डॉक्टर हैवान का भी रूप साबित हो रहे है। डॉक्टर्स की ड्यूटी होती है कि हर क्षण उसके पास आये मरीज के इलाज में तैयार रहना लेकिन इस डॉक्टर ने डॉक्टरी पेशे को भगवान से रावण का दूसरा रूप साबित कर दिया ! मध्य प्रदेश के इंदौर जिले में कुछ ऐसा ही रूप एक डॉक्टर का सामने आया है !

जीहां एक डॉक्टर ने दिमाग के मरीज का इलाज करने से सिर्फ इसलिए इनकार कर दिया क्योंकि उसके क्लीनिक बंद करने का समय हो गया था ! खंडवा जिले के खेड़ी ग्राम के रहने वाले 70 साल के वृद्ध सुब्हान खान के सिर में दर्द बंद नहीं हो रहा था ! जिसे खंडवा से किसी डॉक्टर ने सलाह देकर इंदौर के डॉक्टर प्रवर पासी के पास इलाज के लिए भेजा ! जहाँ सपना संगीता रोड पर सुबह मरीज को लेकर परिजन पहुंचे ! लेकिन डॉक्टर ने एक के बाद एक एमआरआई सहित अन्य जाँचे लिख दी !

मरीज की जांच कुल 20 हजार रूपए की करा कर जब रात 8 वजे डॉक्टर के क्लीनिक पहुँचे तो इस कलयुगी डॉक्टर ने समय समाप्त होने का कह दिया और दर्द से कराह रहे मरिज को कल आने का कह कर चेकअप करने से इनकार कर दिया ! काफी मिन्नत करने के बाद भी डॉक्टर को रहम नहीं आया यहाँ तक तो ठीक दर्द दूर करने की गोली भी नहीं दी ! थक हार मरीज को परिजन एम वाय लाये जहाँ चेकअप कर गोली लिखी गई !

इस मामले में डॉक्टर पासी से बात कर उनका पक्ष जानने की कोशिश की गई लेकिन वह बात करने को तैय्यार नहीं हुए उनके फोन पर भी यही रिंग बजती रही कि ओपॉइंटमेंट के लिए दूसरे नबर पर संपर्क करे !
रिपोर्ट – समीर खान