Home > State > Delhi > चुनाव आयोग को धृतराष्ट्र कहकर फंसे केजरीवाल, FIR दर्ज

चुनाव आयोग को धृतराष्ट्र कहकर फंसे केजरीवाल, FIR दर्ज

नई दिल्ली: ईवीएम में गड़बड़ी के आरोप लगाते हुए लागातर चुनाव आयोग पर सवाल उठा रहे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के लिए मुश्किलें बढ़ गई हैं। आयोग की तुलना धृतराष्ट्र से करने के चलते भाजपा ने अरविंद केजरीवाल को खिलाफ मामला दर्ज करवा दिया है। दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने बताया कि पार्टी की कानूनी समिति ने संसद मार्ग थाने में एक शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने यह भी बताया कि इस संबंध में राज्य चुनाव आयोग में भी अलग से एक शिकायत दर्ज कराई गई है। बता दें कि आम आदमी पार्टी ने दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता को निशाने पर लेते हुए होर्डिंग तक लगवा दिए थे।

मनोज तिवारी ने बताया- क्यों कराई गई केजरीवाल के खिलाफ FIR

मनोज तिवारी ने संवाददाता सम्मेलन में बताया कि शिकायत में केजरीवाल के उस बयान पर आपत्ति जताई गई है, जिसमें उन्होंने चुनाव आयोग को धृतराष्ट्र और भाजपा को दुर्योधन कहा था।

यह है पूरा मामला

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीते 9 अप्रैल को कई राज्यों में हुए उपचुनाव के दौरान ईवीएम गड़बड़ी का मुद्दा उठाया था। इस दौरान केजरीवाल ने चुनाव आयोग की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए चुनाव आयोग की तुलना धृतराष्ट्र से की। उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है जैसे चुनाव आयोग धृतराष्ट्र हो गया है, जो अपने बेटे दुर्योधन को साम दाम दंड भेद करके सत्ता में पहुंचाना चाहता है।

यह भी बोले केजरीवाल

केजरीवाल ने चुनाव आयोग पर तीखे वार करते हुए कहा कि 8 अप्रैल को देश के कई राज्यों में उपचुनाव हुए जिनमें धौलपुर की 18 मशीनों में गड़बड़ियां पाई गईं। ये साफ़ है कि ईवीएम की प्रोग्रामिंग में छेड़छाड़ कर उनका कोड बदल दिया गया है। हम जानना चाहते हैं कि ये किसने बदला, कब बदला व क्यों बदला गया? उन्होंने कहा कि अब शक होने लगा है कि आखिकार चुनाव आयोग जांच क्यों नहीं करा रहा है?

केजरीवाल ने दिया तर्क

चुनाव आयोग को घेरे में लेते हुए केजरीवाल ने कहा कि एक विधानसभा में करीब 200 बूथ होते हैं, जिनमें 18 मशीनें खराब हैं, इसका मतलब 10 प्रतिशत मशीनों में गड़बड़ी की गई है। भिंड की मशीन पर चुनाव आयोग ने क्लीन चिट दे दी। इसकी जांच क्यों नहीं कराई जा रही, बटन किसी का दबाओ, वोट भाजपा को मिल रहा है। जहां-जहां विविपेट नहीं होगी, वहां गड़बड़ी फैलेगी।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com