नई दिल्ली : इस मानसून आप जमकर बारिश का मजा ले पाएंगे, क्योंकि मानसून न सिर्फ समय पर पूरे देश में पहुंच रहा है। बल्कि अनुमानों के मुताबिक वो जमकर बरसेगा भी। यही नहीं, जिस अल-नीनो की वजह से इस साल सूखे का अंदेशा जताया जा रहा था, वो न सिर्फ मानसून के दूसरे हिस्से में सक्रिय होगा, बल्कि उसका असर भी बेहद कम होगा।

मौसम विभाग के महानिदेशक के जी रमेश ने कहा कि इस साल मानसून अच्छा रहेगा। उन्होंने अंदेशा जताया कि अल-नीनो की वजह से मानसून को नुकसान तो उठाना पड़ेगा, पर ये नुकसान बेहद कम होगा और बारिश पूर्व अनुमानों के हिसाब से अच्छी होगी।

मौसम विभाग के महानिदेशक के जी रमेश ने बताया कि मानसून पूरे देश में अपने तय समय पर पहुंच रहा है। मानसून 13-14 जून तक उत्तरी भारत के महत्वपूर्ण राज्यों पर छा जाएगा। उन्होंने बताया कि 13-14 जून तक मानसून बिहार, झारखंड के साथ ही पश्चिम बंगाल को जमकर भिगो रहा होगा।

मौसम विभाग के महानिदेशक के जी रमेश ने कहा कि पिछले कुछ हफ्तों में अल नीनो का खतरा कम हुआ है जिससे परिस्थितियां अनुकूल नजर आ रही हैं। मौसम विभाग ने मंगलवार को नया अनुमान जारी किया है। इस साल लॉन्ग पीरियड एवरेज 96 फीसदी से बढ़ाकर 98 फीसदी कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय भारत में तो अनुमानों के मुताबिक ही 100% बारिश होगी।

गौरतलब है कि कुछ समय पहले तक आशंका जताई गई थी कि जुलाई, 2017 तक अल-नीनो भारत की सीमा तक पहुंच सकता है। इसकी वजह से मानसून कमजोर पड़ेगा और बारिश कम होने से सूखे जैसे हालात हो जाएंगे। पर इस साल मानसून में बादल अपने तय समय पर जमकर बरसेंगे।