Home > Election > राजस्थान : कांग्रेस ने मनाई दिवाली, भाजपा की झोली खाली

राजस्थान : कांग्रेस ने मनाई दिवाली, भाजपा की झोली खाली

नए साल पर राजस्थान के उपचुनाव में कांग्रेस को जनता ने बड़ा तोहफा दिया है। उपचुनाव में भाजपा ने अपनी तीनों सीटें खो दी हैं और कांग्रेस ने चौंकाते हुए इन सभी पर अपना कब्जा जमा लिया है। कांग्रेस के जयपुर स्थित मुख्यालय सहित सभी जिला कार्यालयों में आतिशबाजी चल रही है। कहा जा सकता है कि राजस्थान उप चुनाव ने कांग्रेस के लिए होली से पहले ही दीपावली ला दी है।

कांग्रेस ने अलवर और अजमेर दोनों लोकसभा सीटों पर उपचुनाव जीत लिया है। हालांकि औपचारिक घोषणा होना बाकी है। इधर, मांडलगढ़ विधानसभा सीट कांग्रेस जीत चुकी है। इधर, भाजपा की बुरी तरह से हार को लेकर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने समीक्षा बैठक शुरू कर दी है। एेसे में राजस्थान के जयपुर स्थित भाजपा मुख्यालय में सन्नाटा पसर गया है। उधर, कांग्रेस मुख्यालय में खुशी की लहर दौड़ गई है और सभी एक दूसरे को मिठाई खिला रहे हैं।

अलवर में कांग्रेस 194905 वोटों से आगे चल रही है। अलवर लोकसभा सीट पर अब तक कांग्रेस को 637373 वोट, तो भाजपा को 442468 वोट मिल चुके हैं। इधर, अजमेर में कांग्रेस 81662 वोटों से आगे चल रही है। अजमेर लोकसभा सीट पर अब तक कांग्रेस को 554776 वोट और भाजपा को 473114 वोट मिल चुके हैं। अलवर से कांग्रेस के डॉ. करण सिंह यादव और भाजपा के डॉ. जसवंत सिंह यादव मैदान में है। इधर, अजमेर से कांग्रेस के डॉ. रघु शर्मा और भाजपा से रामस्वरुप लांबा के बीच मुकाबला है।

माण्डलगढ़ विधानसभा सीट कांग्रेस ने अपने कब्जे में ले ली है। यहां कांग्रेस ने 12976 मतों से जीत दर्ज की है। इस सीट पर कांग्रेस के विवेक धाकड़ को 70146 वोट तथा भाजपा के शक्ति सिंह हाड़ा को 57170 वोट मिले हैं। बीते 29 जनवरी को अलवर व अजमेर लोकसभा और मांडलगढ़ विधानसभा के लिए मतदान हुआ था।

इसलिए आई उपचुनाव की नौबत

अलवर, अजमेर लोकसभा व मांडलगढ़ विधानसभा में उपचुनाव यहां के प्रतिनिधियों के निधन के कारण हुए हैं। अलवर से सांसद रहे महंत चांदनाथ और अजमेर सांसद व पूर्व केन्द्रीय मंत्री रहे सांवरलाल जाट का निधन बीते वर्ष बीमारी के कारण हो गया था। जबकि मांडलगढ़ विधायक कीर्ति कुमारी की भी स्वाइन फ्लू के चलते मृत्यु हो गई थी।

राजस्थान में अलवर, अजमेर लोकसभा व मांडलगढ़ विधानसभा के ​लिए 29 जनवरी को मतदान हुआ था।

42 उम्मीदवार थे मैदान में

इन उपचुनाव में कुल 42 उम्मीदवार मैदान में थे। लेकिन ​मुख्य मुकाबला कांग्रेस और भाजपा में ही माना जा रहा था। अलवर से जहां कांग्रेस ने पूर्व सांसद डॉ. करण सिंह तो भाजपा ने वर्तमान राजस्थान सरकार में मंत्री डॉ जसवंत सिंह को मैदान में उतारा था। जबकि अजमेर से डॉ रघु शर्मा कांग्रेस के व रामस्वरुप लांबा भाजपा प्रत्याशी थे। वहीं मांडलगढ़ से कांग्रेस ने विवेक धाकड़ व भाजपा ने शक्ति सिंह हाड़ा को उम्मीदवार बनाया था।

Our News Network and website neither have any collaboration and connection directly nor indirectly with “India Today Group/ITG” ,TV Today Network, Channel Tez TV media group .