Home > India News > पूर्व CM शिवराज जांच के घेरे में, ईओडब्ल्यू करेगी 450 करोड़ के पौधारोपण घोटाले की जांच

पूर्व CM शिवराज जांच के घेरे में, ईओडब्ल्यू करेगी 450 करोड़ के पौधारोपण घोटाले की जांच

File photo

भोपाल : मध्य प्रदेश में शिवराज सरकार के कार्यकाल में नर्मदा पौधारोपण घोटाले से जुड़ा मामला फिर से सुर्खियों में है। इस घोटाले का आरोप पूर्ववर्ती सरकार पर लगाते हुए वन मंत्री उमंग सिंघार ने मामले की जांच आर्थिक अपराध ब्यूरो (ईओडब्ल्यू) को सौंप दी है।

नर्मदा पौधारोपण घोटाले में तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, तत्कालीन वन मंत्री गौरीशंकर शेजवार और अन्य अधिकारियों के नाम भी जांच के घेरे में है।

बता दें कि नर्मदा कछार में दो जुलाई, 2017 को एक दिन में सात करोड़ 10 लाख से ज्यादा पौधों के रोपण का दावा किया गया था।

कांग्रेस की सरकार आने के बाद जब वर्तमान वन मंत्री उमंग सिंघार ने बैतूल जिले के जंगलों का जायजा लिया तो पता चला कि जहां 15 हजार 526 पौधे रोपित किए गए थे, वहां मौके पर मात्र 15 फीसदी पौधे ही हैं और गड्ढे महज 9000 ही मिले थे।

 

वनमंत्री ने कहा कि पौधारोपण में 450 करोड़ का आर्थिक घोटाला किया गया। वनमंत्री के मुताबिक इस पूरे मामले में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, पूर्व मंत्री गौरीशंकर शेजवार सहित अन्य अफसरों के खिलाफ ईओडब्ल्यू में एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। वनमंत्री ने कहा कि इस पूरे भष्टाचार में पेड़ों की कीमत से लेकर गड्डे खोदने तक में जमकर भष्टाचार किया गया।

वनमंत्री ने दावा किया कि पौधारोपण के लिए 20 रुपए के पौधों को 200 रुपए से ज्यादा की कीमत में खरीदा गया। पूरे मामले की जांच के लिए वनमंत्री ने ईओडब्ल्यू को पत्र लिखा है। वनमंत्री के मुताबिक, कांग्रेस ने अपने वचन पत्र में वादा किया था कि जो भी आर्थिक घोटाला तत्कालीन सरकार ने किया है उसकी जांच की जाएगी, पौधारोपण घोटाले की जांच उसी का एक हिस्सा है।

अपने खिलाफ पौधारोपण मामले में ईओडब्ल्यू की जांच को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वनमंत्री पर बड़ा पलटवार किया है। शिवराज ने कहा कि पहले वनमंत्री ने अपने ही पार्टी के नेता दिग्विजय सिंह पर जो आरोप लगाए थे उसकी जांच कराए। शिवराज ने वनमंत्री को चुनौती देते हुए कहा कि उनको जो जांच करानी है, वह करा लें। इसके साथ ही शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस में जारी अंतर्कलह को लेकर जमकर तंज कसा है। शिवराज ने कहा कि पहले यह साफ हो कि सरकार कौन चला रहा है।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com