फेसबुक का ट्विटर और इंस्टाग्राम अकाउंट हुआ हैक, दुबई के इस बड़े हैकिंग ग्रुप का है हाथ

वरमाइन ग्रुप इससे पहले गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई, फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग और ट्वीटर के सीईओ जैक डॉर्सी का अकाउंट हैक कर चुका है। इसी ग्रुप ने इसी साल जनवरी में यूएस नेशनल फुटबॉल लीक टीम का अकाउंट हैक किया था।अवरमाइन ने फेसबुक के ट्विटर अकाउंट को हैक करके पोस्ट किया, ‘हाय, हम लोग अवरमाइन हैं।

दुनिया की सबसे बड़ी सोशल मीडिया साइट फेसबुक के ट्विटर, इंस्टाग्राम और मैसेंजर अकाउंट के हैक होने की खबर है। इस हैकिंग को हैकिंग ग्रुप OurMine ने अंजाम दिया है। हालांकि अब सभी अकाउंट को री-स्टोर कर लिया गया है।

बता दें कि अवरमाइन ग्रुप इससे पहले गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई, फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग और ट्वीटर के सीईओ जैक डॉर्सी का अकाउंट हैक कर चुका है। इसी ग्रुप ने इसी साल जनवरी में यूएस नेशनल फुटबॉल लीक टीम का अकाउंट हैक किया था।

अवरमाइन ने फेसबुक के ट्विटर अकाउंट को हैक करके पोस्ट किया, ‘हाय, हम लोग अवरमाइन हैं। वेल, फेसबुक को भी हैक किया जा सकता है, लेकिन इसकी सिक्योरिटी कम-से-कम ट्विटर से मजबूत है। अपने अकाउंट की सिक्योरिटी बढ़ाने के लिए हमसे संपर्क करें: contact@ourmine.org सिक्योरिटी सर्विस के लिए ourmine.org पर विजिट करें।’

फेसबुक ने भी इस भी हैकिंग की पुष्टि करते हुए कहा है उसके कुछ कॉर्पोरेट सोशल अकाउंट को हैक किया गया था जिन्हें अब री-स्टोर कर लिया गया है, वहीं ट्विटर ने भी फेसबुक के अकाउंट के हैक होने की पुष्टि कर दी है। ट्विटर ने कहा है कि हैकिंग की जानकारी मिलते ही अकाउंट को लॉक कर दिया गया।

अवरमाइन ग्रुप साल 2016 से एक्टिव है। कहा जाता है कि इस ग्रुप में दुबई के कुछ युवा हैं। फेसबुक अकाउंट को ठीक उसी तरह हैक किया गया है जिस तरह पिछले महीने नेशनल फुटबॉल लीक टीम का अकाउंट हैक किया गया था। इस ग्रुप ने Marvels इंटरटेनमेंट का भी ट्विटर अकाउंट हैक किया था।

वहीं ट्विटर ने अवरमाइन के ट्विटर अकाउंट को सस्पेंड कर दिया है, और फेसबुक ने भी इस ग्रुप के फेसबुक अकाउंट को डिलीट कर दिया है। अवरमाइन ग्रुप की अपनी एक साइट भी जिस पर वह हैकिंग की रिपोर्ट का लिंक भी शेयर करता है। OurMine दुबई का एक हैकिंग ग्रुप है।

इससे पहले इस ग्रुप ने कई हाई प्रोफाइल और बड़ी कंपनियों के अकाउंट हैक किए हैं। इससे पहले इस ग्रुप ने नेटफ्लिक्स और ESPN का भी अकाउंट हैक किया है। इस ग्रुप का दावा है कि वह कमजोर सिक्योरिटी को बताने के लिए अकाउंट को हैक करता है और पीड़ित को बताता कि उसे अपने अकाउंट को सिक्योर करने की जरूरत है।