विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना से मिले मुख्यमंत्री योगी, संभव मदद का भरोसा

0
14

लखनऊ : गोमती नगर में पुलिस कॉन्स्टेबल की गोली से मारे गए विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना व परिजनों से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने कल्पना के परिजनों को हर संभव मदद देने का भरोसा दिया।

इस दौरान उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा भी मौजूद थे। इस मुलाकात को लेकर डीजीपी और गृह सचिव को भी तलब किया गया था। मुलाकात के बाद कल्पना तिवारी ने अपने बयान में कहा है कि मुख्यमंत्री ने हमें मदद का भरोसा दिया है। उनसे मुाकात के बाद हैंसला बढ़ा है।

इससे पहले मुख्यमंत्री को बुलाने पर अड़ी मृतक विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना की रविवार देर शाम उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने सीएम से फोन पर बात कराई। यह मुलाकात सोमवार को संभव है। हालांकि, अभी समय और दिन नहीं बताया गया है।

उप मुख्यमंत्री विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना और उनके परिवारीजन से मिलने रविवार को देर शाम उनके आवास पहुंचे। कल्पना ने उनसे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करने की बात दोहराई। इस पर डिप्टी सीएम ने मोबाइल फोन से मुख्यमंत्री से कल्पना की बात कराई। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार आप और आपके परिवार के साथ खड़ी है। मुलाकात के लिए मैं शीघ्र ही उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा को समय दे दूंगा।

डॉ. दिनेश शर्मा ने भी कहा कि मुख्यमंत्री से समय मिलते ही मैं आपकी मुलाकात करा दूंगा। उप मुख्यमंत्री ने मीडिया से कहा कि मैं सिर्फ परिवार से मिलने आया हूं। मुआवजा और नौकरी तय समय पर दिलाने के लिए मुख्यमंत्री से बात करूंगा।

विवेक तिवारी के ससुर रमेश चंद्र शुक्ला ने कहा कि सरकार की ओर से जो मुआवजा देने की घोषणा की गई थी वह उसकी हैसियत के मुकाबले बहुत कम है। डिप्टी सीएम ने उनकी गुजारिश पर मुख्यमंत्री से बात करने का आश्र्वासन दिया।

विवेक हत्याकांड की जांच के लिए आइजी सुजीत पांडेय की अगुवाई में गठित एसआइटी के अलावा फॉरेंसिक टीम ने रविवार दोपहर मकदूमपुर चौकी के पास घटनास्थल का निरीक्षण किया। वहां से मिट्टी के नमूने लिए। अब इनका मिलान आरोपित सिपाहियों के कपड़ों में लगी डस्ट से किया जाएगा, जिससे आरोपितों के खिलाफ न्यायालय में ठोस साक्ष्य पेश किए जा सकें। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बाइक से टकराने के बाद कार शहीद पथ फ्लाईओवर अंडरपास की दीवार से टकराई थी।

बताया गया कि सिपाहियों ने विवेक को सामने से गोली मारी है। पड़ताल में लगी टीम ने कार के टूटे शीशे भी जमा किए। गोमतीनगर थाने में खड़ी सिपाहियों की बाइक में लगे निशान देखे। आइजी ने कहा कि फॉरेंसिक और बैलेस्टिक टीम ने घटनास्थल से अहम साक्ष्य जुटाए हैं।