उद्धव ठाकरे के साथ जाऊंगा अयोध्या, वो बनाएंगे राम मंदिर और हम बाबरी मस्जिद – आजमी

महाराष्ट्र की सत्ता पर आसीन शिवसेना की नई गठबंधन पार्टी समाजवादी पार्टी के नेता ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर निशाना साधा है।

सपा विधायक अबु आजमी के बेटे फरहान आजमी ने महाराष्ट्र के कोलाबा में सीएए, एनआरसी और एनपीआर का विरोध किया।

फरहान आजमी के परचम फाउंडेशन और वी द पीपल ऑफ महाराष्ट्र ने संवैधानिक कांफ्रेंस की। जिसमें फरहान ने कहा कि इस आयोजन का उद्देश्य संवैधानिक मूल्य को संरक्षित करने की आवश्यकता को दोहराना है।

यहां उन्होंने उद्धव ठाकरे पर हमला बोलते हुए कहा कि यदि राज्य सरकार सीएए के खिलाफ अधिसूचना नहीं लाती है तो हम उसे गिरा देंगे।

सपा नेता ने उद्धव ठाकरे की अयोध्या यात्रा को लेकर कहा, ‘ठाकरे इसे चेतावनी या धमकी के तौर पर ले सकते हैं लेकिन यदि वह सात मार्च को अयोध्या गए तो मैं भी उनके साथ जाऊंगा। मैं अपने पिता (अबु आजमी), सपा के सभी सदस्यों और महाविकास अघाड़ी को आमंत्रित करता हूं कि वह हमारा साथ दें। हम सब उनका साथ देंगे लेकिन एक शर्त है- यदि वह वहां राम मंदिर बनाएंगे तो मैं वहां बाबरी मस्जिद का निर्माण करूंगा।’

बता दें कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे सात मार्च को भगवान राम के दर्शन करने अयोध्या जाएंगे। शिवसेना सांसद संजय राउत ने शनिवार को इसकी घोषणा की।

संजय राउत ने कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे भगवान राम का आशीर्वाद लेने के लिए सात मार्च को अयोध्या जाएंगे।

फरहान आजमी के बयान पर भाजपा सांसद हरनाथ सिंह यादव ने कहा कि दुनिया की कोई ताकत नहीं है जो वहां (अयोध्या) पर मंदिर की जगह पर मस्जिद बना सके। मुझे लगता है कि अबू आजमी के सुपुत्र (फरहान आजमी) के अंदर बाबर की आत्मा समाहित है।

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव परिणाम की पिछले साल अक्तूबर में घोषणा के बाद सत्ता साझा करने को लेकर मतभेद के कारण शिवसेना और भाजपा का गठबंधन टूट गया था।

इसके बाद ठाकरे का उत्तर प्रदेश स्थित अयोध्या का यह पहला दौरा होगा। नौ नवंबर 2019 को अयोध्या विवाद में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद उद्धव ठाकरे ने एलान किया था कि वह 24 नवंबर, 2019 को अयोध्या जाएंगे।