पंजाब में किसान प्रदर्शन, 32 ट्रेनें रद्द

punjab former file pic

चंडीगढ़- आज चौथे दिन भी पंजाब का रेलवे ट्रैफिक किसानों के प्रदर्शन के कारण प्रभावित रहा। हजारों की तादाद में किसान, सफेद मक्खियों द्वारा बरबाद कर दी गई उनकी फसलों का हर्जाना बढ़ाने की मांग कर रहे हैं।

इस प्रदर्शन के कारण 76 से ज्यादा ट्रेनें प्रभावित हुई हैं, 44 रेलगाड़ियों के मार्ग में परिवर्तन किया गया है और 32 ट्रेनें पूरी तरह निरस्त कर दी गई हैं। आपको बता दें कि पाकिस्तान जाने वाली इकलौती ट्रेन समझौता एक्सप्रेस भी निरस्त की गई ट्रेनों में से है।

केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने किसानों को फर्जी कीटनाशक सप्लाई किए जाने को लेकर रिपोर्ट मांगी है और राज्य सरकार ने शीघ्रातिशीघ्र डिप्टी कमिश्नर से आत्महत्या करने वाले किसानों की लिस्ट मांगी है। विदेश मंत्रालय ने जितना जल्दी हो सके इस मामले को निपटाने के आदेश दिए हैं।

इसके चलते रेलवे ने उत्तर, दक्षिण, पूर्व और पश्चिम दिशाओं में जाने वाली ढेरों ट्रेनों के रूट चेंज कर दिए हैं। यात्रियों को इस प्रदर्शन के चलते भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है और रूट बदले जाने के चलते नजदीकी मंजिल तक पहुंचने के लिए भी लंबा सफर करना पड़ रहा है।

रेलवे ने भी पंजाब सरकार से कहा है कि वह यह सुनिश्चित करे कि किसानों को जल्द से जल्द रेलवे रूट से हटाया जाए ताकि यात्रियों को हो रही दिक्कतों को दूर किया जाए।