इन दिनों शुगर से संबंधित बीमारियां बढ़ रही हैं। इसके कारण होने वाली गंभीर बीमारियों में डायबीटीज, हृदय से संबंधित रोग और थकान शामिल है। अगर दिन खत्म होने तक आपको कुछ मीठा खाने की इच्छा होती है तो यह चीनी के नशे का एक सामान्य लक्षण है जिसके बारे में आपको सावधान रहना चाहिए। अगर आपको यह महसूस नहीं हो रहा है कि आप चीनी की कितनी मात्रा खा रहे हैं तो इन बातों को देखें-

– अगर आपको दिन भर थकान लगती है तो यह इस बात का सबसे बड़ा संकेत है कि आप ज्यादा मात्रा में चीनी खा रहे हैं। मीठे पदार्थों से मिलने वाला कार्ब्स बहुत कम समय के लिए होता है और यह डायट आपको बुरी तरह से काबू में कर सकती है।

हमेशा सर्दी और फ्लू होना: अक्सर बीमार पड़ना इस बात का संकेत है कि आपको चीनी के सेवन की मात्रा घटानी चाहिए। वास्तव में यह आपकी इम्यूनिटी (प्रतिरक्षा) को कमजोर बनाती है और शरीर की बीमारियों से लड़ने की क्षमता को घटाती है।

दिमाग शांत न होना: जब आप चीनी खाते हैं तो ब्लड शुगर जल्दी बढ़ता है। बुरे ब्लड शुगर से कॉगनिशन का खतरा होता है। यह शरीर पर शुगर का सबसे नकारात्मक प्रभाव है। इससे आपका दिमाग खाना खाने के बाद भी शांत नहीं हो पाता है।

टेस्ट बड का कमजोर होना: बहुत ज्यादा चीनी खाने से टेस्ट बड मर जाते हैं। समय के साथ चीनी टेस्ट बड को सुन्न कर देती है। इसलिए फिर से मीठा स्वाद हासिल करने के लिए उन्हें ज्यादा चीनी खाने की इच्छा होती है। इसलिए अच्छा होगा कि आप चीनी की मात्रा पहले ही कम कर दें।

त्वचा से संबंधित समस्याएं और डार्क सर्कल्स: चीनी के कारण शरीर में सूजन बढ़ती है और त्वचा से संबंधित समस्याएं होती हैं। इसके कारण ऐग्जिमा, मुंहासे, तैलीयता और शुष्कता जैसी समस्याएं होती हैं। चीनी की मात्रा कम करने से इन समस्याओं से छुटकारा मिलता है। चीनी की ज्यादा मात्रा खाने के कारण ये सभी समस्याएं प्रमुख रूप से होती हैं।

वजन बढ़ना: चीनी में फायबर और प्रोटीन नहीं होता, केवल कैलरीज होती हैं। इसके कारण यह शरीर में ज्यादा इंसुलिन स्रावित करता है। इंसुलिन एक तरह का हार्मोन है जो वजन बढ़ने के लिए जिम्मेदार होता है।