भाजपा विधायक के पति की गुंडई, तहसीलदार जड़ा थप्पड़

0
16

बहराइच के नानपारा से भाजपा विधायक माधुरी वर्मा के पति पूर्व विधायक दिलीप वर्मा ने एक तहसीलदार पर हमला करते हुए उसे थप्पड़ जड़ दिया। जिससे तहसील के कर्मचारी आंदोलित हो उठे और हंगामा कर दिया।

डीएम ने मामले को संज्ञान लेते हुए पूर्व विधायक के खिलाफ केस दर्ज करने का आदेश दे दिया। जिस पर पूर्व विधायक ने अपने बचाव में तहसीलदार पर रिवाल्वर तानकर जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है।

पूर्व विधायक ने समर्थकों के साथ कोतवाली के सामने लेटकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। इस दौरान सीओ से भी पूर्व विधायक की कहासुनी हुई।

दरअसल, नानपारा की भाजपा विधायक माधुरी वर्मा के पति दिलीप वर्मा शुक्रवार सुबह 11:30 बजे नानपारा तहसील पहुंचे। इस दौरान तहसीलदार मधुसूदन आर्य उपजिलाधिकारी के वाहन से उतरकर अपने कमरे में पहुंचे।

तभी पूर्व विधायक ने एसडीएम के वाहन से तहसीलदार के चलने पर सवाल उठाया। तहसीलदार ने भी अपनी कार खराब होने का हवाला देते हुए पूर्व विधायक को जवाब दिया। इसी दौरान कहासुनी शुरू हो गई।

पूर्व विधायक ने तहसीलदार पर थप्पड़ों की बौछार कर दी। तहसीलदार की चीख पुकार पर कर्मचारी दौड़े। तभी पूर्व विधायक समर्थकों के साथ अपशब्दों का प्रयोग करते हुए बाहर निकल गए। तहसीलदार की पिटाई से अफरा-तफरी की स्थिति बन गई।

उपजिलाधिकारी को मामले से अवगत कराने के बाद तहसीलदार तत्काल जिला मुख्यालय पहुंचे और उच्चाधिकारियों को मामले की जानकारी दी। जिस पर डीएम ने विधायक के खिलाफ केस दर्ज करने का आदेश दिया।

उधर, पूर्व विधायक भी घटना के एक घंटे बाद कोतवाली नानपारा पहुंच गए। उन्होंने तहसीलदार मधुसूदन पर अपने चैंबर में लाइसेंसी रिवाल्वर तानकर जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया और कोतवाली में ही जमीन पर धरने पर बैठ गए।

पूर्व विधायक ने सीओ के साथ भी किया अपशब्दों का प्रयोग

मौके पर पहुंचे सीओ वीपी सिंह ने पूर्व विधायक को समझाने का प्रयास किया। इस दौरान तीखी नोंकझोंक हुई।

सीओ का कहना है कि पूर्व विधायक ने अपशब्दों का भी प्रयोग किया। इसके बाद पूर्व विधायक कोतवाली से निकलकर बाहर मुख्य सड़क पर पहुंच कर लेट गए। समर्थकों ने नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन शुरू कर दिया। आसपास की दुकानें भी बंद करा दी गई।

नानपारा में बवाल बढ़ने की आशंका को देखते हुए पीएसी तथा आठ थानों की पुलिस रवाना की गई है। पुलिस अधीक्षक डॉ. गौरव ग्रोवर ने बताया कि केस दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।