Home > Hindu > गणेश चतुर्थी : इन चीजों को गणेशजी को समर्पित करने से मिलेगी अपार सुख-समृद्धि

गणेश चतुर्थी : इन चीजों को गणेशजी को समर्पित करने से मिलेगी अपार सुख-समृद्धि

यदि कोई भक्त विघ्नविनायक श्रीगणेश का श्रद्धा और भक्ति के साथ सिर्फ भी नाम ले लेता है तो उसकी मनोकामना श्री गणपति गजानन अवश्य सुनते हैं। फिर गणेशजी की विधिपूर्वक आराधना कर उनकी प्रिय वस्तुएं उनको समर्पित करने से गणेश भक्तों को अनन्त गुना फल प्राप्त होता है। अब बात करते हैं उन प्रिय वस्तुओं की जिनको चढ़ाने से श्रीगणेश प्रसन्न होते हैं।

हरी दूर्वा घास श्रीगणेश को अति प्रिय है। मान्यता है कि हरी दुर्वा घास उनको शीतलता प्रदान करती है। इसलिए गणेशजी को हरी दुर्वा घास अर्पित करते हैं। 11, 21 या इससे ज्यादा दुर्वा चढ़ाने का शास्त्रों में विधान है।

दुर्वा में कम से कम तीन या पांच पत्तियां होना चाहिए। दुर्वा गणेशजी के मस्तक पर रखें, उनके चरणों में समर्पित ना करें। दुर्वा अर्पित करते हुए यह मंत्र बोलें

।। इदं दुर्वादलं ऊं गं गणपतये नमः।।

मोदक एक विशेष प्रकार का मिष्ठान्न है। इसका भोग श्रीगणेश को लगाने से वह शीघ्र प्रसन्न होते हैं और भक्तों की सभी मनोकामना पूरी करते हैं।

गणेश चतुर्थी पर गजानन को मोदक चढ़ाने से वो भक्त की मनचाही मुराद पूरी करते हैं। मान्यता है कि मोदक चढ़ाने से कर्ज से मुक्ति मिलती है और घर में समृद्धि आती है।

मोदक की ही तरह बूंदी के लड्डू भी भगवान गणेश को अतिप्रिय है। बूंदी के लड्डू का भोग लगाने से गणेशजी भक्तों को धन-समृद्धि का वरदान देते हैं। मनचाही इच्छा पूरी करने के लिए 5,11,21,51 या इससे ज्यादा संख्या में भगवान गणेश को लड्डूओं का भोग लगाया जाता है।

इसके अलावा बेसन के लड्डू, मोतीचूर के लड्डू, गुड़ और नारियल से बनी चीजें उन्हें प्रसाद या भोग में चढ़ाई जाती हैं।

फलों में श्रीफल गणेशजी को प्रिय है। इसलिए श्रीगणेशजी की आराधना मे श्रीफल समर्पित किया जाता है।

सिंदूर गणेश जी को बहुत पसंद है। गणेश जी को प्रसन्न करने के लिए उनको सिंदूर का तिलक लगाएं। गणेश जी को तिलक लगाने के बाद अपने मस्तक पर भी सिंदूर का तिलक लगाएं। इससे गणेश जी की कृपा प्राप्त होती है।

शास्त्रों के अनुसार शमी को शनि देव का पौधा माना जाता है। लेकिन शमीपत्र शनि महाराज और गणेशजी दोनों को प्रिय है। इसलिए श्रीगणेश पूजा में शमीपत्र समर्पित करने से घर में धन एवं सुख की वृद्धि होती है।

घी और गुड़ श्रीगणेश को प्रिय है इसलिए श्री गजानन की पूजा में घी और गुड़ का भोग लगाया जाता है। श्रीगणेश को भोग लगाने के बाद गुड़ और घी को गाय को खिला दे। मान्यता है कि इस उपाय को करने से धन संबंधी समस्या से मुक्ति मिलती है ।

श्रीगणेश को लाल फूल प्रिय है। इसलिए गणपतिजी की आराधना में उनको लाल फूल समर्पित करने का विधान है। मान्यता है कि श्रीगणेश को लाल फूल चढ़ाने से वो शीघ्र प्रसन्न होते हैं और भक्तों की सभी मनोकामना पूर्ण करते हैं।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com