Home > Crime > अस्पताल के गार्ड ने लगाया लखनऊ की अस्मत पर दाग

अस्पताल के गार्ड ने लगाया लखनऊ की अस्मत पर दाग

lakhnauलखनऊ [ TNN ] उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ के मोहनलालगंज के प्राइमरी स्कूल में महिला से गैंगरेप और हत्या के मामले का खुलासा होता दिख रहा है। दरिंदगी को अंजाम देने वाला उस अस्पताल का दरिंदा गार्ड निकला, जहां पीडिता महिला काम करती थी। एक हिंदी अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस पुछताछ में अस्पताल के गार्ड रामसेवक यादव ने स्वीकार किया है कि उसने ही उस महिला के साथ रेप किया है और बाद में उसकी हत्या कर दी। हालांकि उसने गैंगरेप से इंकार कर दिया। उसने बताया कि उसने अकेले ही इस इंसानियत को तार-तार कर देने वाली हरकत को अंजाम दिया है।

यादव ने बताया कि वारदात के दिन उसी ने महिला को फोन करके बलसिंहखेड़ा बुलाया था और बाद में स्कूल में ले जाकर उससे रेप के बाद उसकी हत्या कर दी। वह बलसिंहखेड़ा का ही रहने वाला है। हालांकि पुलिस अभी पूरे मामले की जांच कर रही है और वारदात के पीछे की वजह का जानने की कोशिश कर रही है। महिला की कॉल डिटेल के आधार पर पुलिस ने शनिवार को गार्ड रामसेवक को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ की। सूत्रों के मुताबिक गार्ड रामसेवक की युवती से अच्छी जान-पहचान थी।

इसके अलावा पुलिस में इस मामले में बाराबंकी के अजीम , लखनऊ के महेश और पीजीआई थानाक्षेत्र निवासी प्रॉपर्टी डीलर अमित को भी हिरासत में लेकर पूछताछ की।

प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने गैंगरेप और हत्या की शिकार हुई महिला के बच्चों को 10 लाख रूपये की सहायता का ऎलान किया है। साथ ही सरकार ने उनकी पढ़ाई का पूरा खर्च उठाने की भी घोषणा की ।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com