Home > Business > अब हिंदी में आपकी मदद करेगा Google Allo

अब हिंदी में आपकी मदद करेगा Google Allo

Google   app

Google Allo मातृभाषा से सबको लगाव होता है और अगर इसी भाषा में मोबाइल पर मैसेजिंग करने को मिल जाए तो फिर आपकी अभिव्यक्ति कई गुना सार्थक, परिवक्त और वास्तवविक हो जाती है.मातृभाषा को ध्यान में रखते हुए गूगल ने अपने स्मार्ट मैसेजिंग ऐप-एलो में अपने हिंदी भाषी उपयोगकर्ताओं की मदद और जवाब के लिए सोमवार को हिंदी को जोड़ने की घोषणा की. गूगल का मानना है कि आज बड़ी संख्या में गैर-अंग्रेजी भाषी लोग ऑनलाइन आने लगे हैं. ऐसे में गूगल उन सभी लोगों के अनुभव को बेहतर, आसान और प्रासंगिक बनाना चाहता है. इसी प्रयास में गूगल ने एलो में असिस्टेन्ट एवं स्मार्ट रिप्लाई के लिए हिंदी भाषा का फीचर पेश कर रहा है.

गूगल ने कहा है कि आने वाले एक या दो दिनों में एंड्रॉइड और आईओएस पर शुरू होने वाले ये नए फीचर सभी उपयोगकतार्ओं के लिए उपलब्ध होंगे. नए उपयोगकर्ताओं को स्वत: ये नए फीचर मिल जाएंगे जबकि पुराने उपयोगकर्ताओं को अपना एलो ऐप अपडेट करना होगा.

गूगल के ग्रुप प्रोडक्ट मैनेजर अमित फूले ने अमेरिका से वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए संवाददाताओं से कहा, “अपने लांच के बाद से गूगल एलो को बहुत अच्छा रेस्पॉन्स मिला है. विशेष रूप से भारत उन देशों में से एक है, जहां गूगल एलो के उपयोगकर्ताओं की संख्या सबसे अधिक है. गूगल असिस्टेन्ट गूगल एलो का सबसे लोकप्रिय फीचर है- ग्रुप चैट में हर 12 में से एक मैसेज गूगल असिस्टेन्ट को किया जाता है. हम इस रेस्पॉन्स से बेहद उत्साहित हैं और आज का यह लांच लाखों उपयोगकर्ताओं को उनकी अपनी भाषा में ये सुविधाएं उपलब्ध कराएगा.”

गूगल मानता है कि एलो ऐप पर मौजूद असिस्टेन्ट उपयोगकताओं का अपना साथी है और यह उनकी जरूरतों के अनुसार हर जरूरी जानकारी देता है. यह उनके काम पूरे करने में, दोस्तों के साथ चैट करने में, गेम्स खेलने में मदद करता है. उपयोगकर्ता अपनी चैट विंडो में चैट जारी रखते हुए एक साथ ये सभी काम कर सकते हैं.

गूगल के मुताबिक एलो अपने उपयोगर्ताओं को इतनी आजादी देता है कि वे एक समय में चाहे तो अपने पसंदीदा शाहरुख की फिल्म का गाना सुन सकते हैं या फिर अपने पसंदीदा गेम्स पर टाईम पास कर सकते हैं. इन सभी कार्यो में गूगल असिस्टेन्ट अपने उपयोगर्ताओं का सच्चा साथी है.

एलो में अपने असिस्टेन्ट के साथ चैट करिए या किसी भी ग्रुप चैट में अपने असिस्टेन्ट को लाने के लिए गूगल टाईप करना होता है. इस लॉन्च के साथ एलो में गूगल असिस्टेन्ट अब से हिन्दी भाषा को समझेगा और इस भाषा में रेस्पॉन्ड भी करेगा. हिन्दी भाषा में असिस्टेन्ट का इस्तेमाल करने के लिए कहें ‘टॉक टू मी इन हिन्दी’ या अपनी डिवाइस की लैंगवेज सेटिंग में जाकर हिंदी भाषा सैट करें.

एलो का एक और अद्वितीय फीचर है ‘स्मार्ट रिप्लाई’. इसके द्वारा उपयोगकर्ता आसानी से तुरन्त रिस्पॉन्ड कर सकते हैं. इन दिनों एलो पर आधे से ज्यादा लोग हर दिन स्मार्ट रिप्लाई का इस्तेमाल करते हैं. मशीन लनिर्ंग द्वारा पावर्ड एलो टेक्स्ट की भाषा तो समझता ही है साथ ही दोस्तों और परिवारजनों द्वारा भेजे गए इमेजेस के लिए रेस्पॉन्स करने में भी मदद करता है- और यह सब हिन्दी भाषा में.

स्मार्ट रिप्लाई उस भाषा को पहचान लेता है, जिसमें आप चैट कर रहें हैं और उसी भाषा में रेस्पॉन्स का सुझाव देने लगता है. अगर आप अंग्रेजी में चैट कर रहें हैं तो यह आपको अंग्रेजी रेस्पॉन्स दिखाने लगेगा. लेकिन अगर आप हिंदी में चैट कर रहें हैं तो यह आपको इसी भाषा में सुझाव देगा. आप अपनी डिवाइस सैटिंग में जाकर भी भाषा सैट कर सकते हैं. तो अब से आप एक टैप के साथ अपने दोस्तों के संदेश ‘क्या हाल है’ पर जवाब भेज सकेंगे ‘सब ठीक है’.

गूगल एलो एंड्रोइड और आईओएस पर उपलब्ध स्मार्ट मैसेजिंग ऐप है. इसी साल सितम्बर में लांन्च किया गया. गूगल एलो आपको अपनी चैट के दौरान आसानी से विचार अभिव्यक्त करने, जानकारी पाने एवं योजनाएं बनाने में मदद करता है. यह एंड्रोइड और आईओएस प्लेटफार्म पर मुफ्त में उपलब्ध है.




Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com