Home > India > शासन का डंडा सिर्फ आम आदमी के लिए

शासन का डंडा सिर्फ आम आदमी के लिए

Governance for common man, just rodअनूपपुर –  अनूपपुर कोतवाली पुलिस मानों इन दिनों एक सूत्री कारोबार को बढाने में जुटी हुई है रात होते ही साहब के निर्देशानुसार कुछ चौराहों पर रूटीन चैकिंग के नाम पर खडे हो जाते है और फिर शुरू होता है जांच के नाम पर वसूली अभियान,पर सवाल यह उठता है की आखिर नियम कानून क्या सिर्फ आम आदमियों के लिये बनाये गये है,कोतवाली थाना छेत्र का आलम तो यह है की आधी रात कुछ पुलिस कर्मी सडक पर खडे हो कर वसूली अभियान को अंजाम देते नजर आते है,अब सवाल यह उठता है की आखिर ये सब किनके इसारों पर होता है , सूत्रों की माने तो चैकिंग तो महज एक बहाना है आम लोगों का तो यह कहना है कि गंदा तो है पर इनका रोज का यह धंधा है।

शासन के निर्देश पर जांच –

शासन के निर्देष है की कोई भी वाहन चालक अगर ट्रैफिक के नियमों का उल्लघन करते पाया जाता है तो उन पर कडी कार्यवाही होनी चाहिये पर शायद यह नियम सिर्फ आम आदमी तक सिमट कर रह गया है ये नियम शायद पुलिस कर्मियों के लिये नही बनाया गया है जिले के पुलिस बल का हाल देख कर तो कुछ ऐसा ही लगता है पर कार्य वाही इन पर नही होती आखिर पुलिस वाले साहब जो ठहरे,हमारी टीम ने इस जांच का सच जानने की कोशिस की तो हालात सबसे ज्यादा बुरे पुलिस विभाग के ही नजर आये जब हमारी टीम ने पुलिस को आधी रात में इस तरह जांच कर लोगों पर चालानी कार्यवाही करते देखा तो लगा की की हम भी जिले के हालात देख लें और उसकी शुरूआत पुलिस विभाग से ही करने की कोशिस की और जो सामने आया हैरान करने वाला था जिले में तैनात पुलिस बल में 70 फीसदी पुलिस कर्मी टैªफिक नियमों को दर किनार करते हुये अपने वर्दी की आड में वाहन चलाते है,हमने जब इसकी सत्यता देखने की कोशिस की तो हमें जितने पुलिस कर्मी मोटर साईकल में सवार नजर आये किसी के पास हैलमेट नही था आम लोगों को सुरक्षा का पाठ पढाने वाली पुलिस को देख कर हैरानी हुई की आखिर क्या इनके लिये नही बने नियम कानूनबिना हैलमेट और कागजात पर

क्यों नही होती कार्यवाही
आम आदमी को देर रात पुलिस हांथ दिखा कर खडा करती है और फिर हैलमेट न होने ,तीन लोगों के बैठे होने,कागज न होने के नाम पर चालानी कार्यवाही की जाती है,हां ये बात और है की रशीद के आड में ये सब होता है,पर ये वसूली अभियान कई सवाल खडे करता है,की आखिर आम आदमी पर ही कार्यवाही के नाम पर वसूली का क्यों डंडा चलता है,पुलिस महकमा के कर्मियों को क्या छुट मिल गई है ट्रफिक नियमो की अनदेखी करने की आखिर पुलिस महकमें को अपने घर में क्यों चैकिंग की जरूरत महसूस नही होती या महकमा जान कर भी अंजान बना हुआ है

पुलिश अधिक्षक का फरमान नहीं चहुंचा थाने तक

अनूपपुर के पुलिस अधिक्षक ने कुछ ही दिन पहले अखबार में खबरों के हवाले से जिले की जनता को यह आस्वसत करने की पूरी कोशिस की थी की कानून सब के लिये बाराबर है यातायात नियमों का पालन सबसे पहले पुलिस कर्मियों को करने की हिदायत दी थी न करने पर कडी कार्यवाही के निर्देष दिये थे पर हालात देख कर तो ये नही कहा जा सकता की पुलिस अधिक्षक का यह फरमान अनूपपुर कोतवाली में पदस्थ पुलिस कर्मियों के कानों में पहुंची है अगर पहुंची होती तो ये हिमाकत नही होती क्या मिलेगी इन्हे सजा -नवागत पुलिस अधिक्षक अनुराग शर्मा के निर्देषों से यह लगने लगा था की जिले के दबंग रूपी इन तथाकथित पुलिस कर्मियों से यातायात नियमों का पालन कराया जा सकेगा पर लगता नहीं है कि इन पुलिस कर्मियों पर पुलिस अधिक्षक महोदय के फरमान का कोई असर हुआ हो तभी तो खुलेआम कोतवाली थाना प्रभारी के सामने यातायात नियमों का माखौल उडाते यह पुलिस कर्मी जिला मुख्यालय के सडकों और चौराहों पर नजर आते है और इन पर कोई कार्यवाही नही होती देखना यह है कि क्या पुलिस अधिक्षक अनुराग शर्मा इन पर विभागीय कार्यवाही कर जनता को यह विश्वास दिलाने में सफल होते है की नही की कानून की नजर में कोतवाल और आम जनता दोनो बराबर है ।

इनका कहना है —

कानून सब के लिये बराबर है लेकिन कानून पालन करने की जिम्मेदारी आम आदमियों से ज्यादा उन पुलिस कर्मियों की है जिनके उपर कानून के पालन करवाने की होती है,और अगर वे ही कानून तोडेंगे तो आम जनता से कानून का पालन कौन करायेगा पुलिस अधिक्षक महोदय इन पुलिस कर्मियों पर यातायात नियमों के अलावा विभागीय कार्यवाही भी करें हमारी यह मंसा है
मनोज द्विवेदी भाजपा जिला मीडिया प्रभारी

इनका कहना है –

अब तक यातायात पुलिस द्वारा किसी भी पुलिस कर्मी के खिलाफ यातायात के कानून के उल्लंघन का कोई मामला नही बनाया गया है और ना ही कोई कार्यवाही की गई है –
राघवेन्द्र भार्गव जिला यातायात प्रभारी

हमारा प्रयास है कि समाज के सभी वर्गो में यह संदेश जाये की यातायात कानून का पालन सभी को करना पडेगा इस अभियान के दौरान वकील ,नेता,साशकीय कर्मचारी,पत्रकार,सभी पर कार्यवाही हुई है पुलिस पर हुई की नही ये मैं नही कह सकता अगर यातायात प्रभारी कह रहे है की नही हुई है तो नही हुई होगी 

सुनील गुप्ता प्रभारी कोतवाली अनूपनपुर

रिपोर्ट :-  विजय उरमलिया 

 

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com