हमारी सोच नही बदलेगी तब तक कुपोषण दूर नही होगा : आनंदी बेन

0
17

खंडवा : राज्यपाल आनंदी बेन पटेल आज खंडवा पहुचीं। यहाँ उन्होंने समाज सेवी संस्थाओं और केंद्र सरकार की योजनाओं से लाभान्वित हुए हितग्रहियों से मुलाकात की। वह ग्रामीण क्षेत्र में भी गई और आंगनवाड़ी के बच्चों , महिलाओं और किसानों से मुलाकात की।राज्यपाल ने कुपोषण को दूर करने पर जोर देते हुए कहा कि सरकार तो अपना काम कर ही रही है, हमे भी अपनी सोच बदलने की जरूरत है, खासकर लड़कियों के प्रति परिवार में भेदभाव खत्म होना चाहिए। उन्होंने किसानों से जैविक खेती करने पर जोर दिया।

खंडवा के सर्किट हाउस में राज्यपाल ने हितग्रहियों से एक- एक कर उज्जवला योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, मुद्रा योजना प्रधानमंत्री सुरक्षा योजना और जीवन ज्योति बीमा योजना के बारे में पूछताछ की और इन योजनाओं में आ रही दिक्कतों और फायदे के बारे में जानकारी ली। राज्यपाल ने अधिकारियों से भी इन योजनाओं की प्रगति के बारे जिले की जानकारी ली और आवश्यक निर्देश दिए।

वह ग्रामीण क्षेत्र में पहुचीं और आंगनवाड़ी केंद्रों को देखा और बच्चों और महिलाओं से मुलाकात की। वहाँ उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जब तक हमारी सोच नही बदलेगी तब तक कुपोषण दूर नही होगा। उन्होंने कहा कि परिवार में लड़कियों से भेदभाव खत्म होना चाहिए और सबसे ज्यादा प्यार और भोजन लड़कियों को मिलना चाहिए तभी कुपोषण दूर होगा। उन्होंने खंडवा जिले को देश के 150 पिछड़े जिलों में शामिल होने के बाद इससे ऊपर उठने के सामूहिक प्रयास करने की बात कही।

राज्यपाल किसानों से भी मिली और उनके खेत में भी पहुँची। उन्होंने किसानों को उन्नत और जैविक खेती करने के लिए प्रोत्साहित किया।

खंडवा देश के पिछड़े जिलों में शामिल है। इसे ध्यान में रखते हुए नीति आयोग के निर्देशानुसार अधिकारियों ने योजनाओं के किर्यान्वयन से संबंधित प्रजेंटेशन राज्यपाल के सामने प्रस्तुत किया।