Home > India News > GST : धोखाधड़ी का पहला मामला आया सामने

GST : धोखाधड़ी का पहला मामला आया सामने

वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) अधिकारियों ने बुधवार को 7 करोड़ से अधिक की कर चोरी मामले में दो कंपनियों के डायरेक्टरों को गिरफ्तार किया। नई अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था जीएसटी के तहत संभवत: यह पहली गिरफ्तारी है।

एक बयान में कहा गया कि सीजीएसटी मुंबई केंद्रीय आयुक्तालय ने शाह ब्रदर्स इस्पात प्राइवेट लिमिटेड के डायरेक्टर संजीव प्रवीण मेहता और वीएन इंडस्ट्रीज के विनयकुमार डी आर्या को क्रमश: 5.20 करोड़ और 2.03 करोड़ रुपये की कर चोरी मामले में गिरफ्तार किया।

शाह ब्रदर्स इस्पात का अपराध गैर जमानती जबकि वीएन इंडस्ट्री का मामला जमानती है। अन्य कई कंपनियों द्वारा भी ऐसी धोखाधड़ी किए जाने की संभावना जताई जा रही है।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com