Home > State > Gujarat > गुजरात : 20 हजार लोगों के पलायन का दावा, CM रूपाणी ने की शांति की अपील

गुजरात : 20 हजार लोगों के पलायन का दावा, CM रूपाणी ने की शांति की अपील

गुजरात के साबरकांठा जिले में 14 महीने की बच्ची से कथित रेप के बाद गैर गुजरातियों पर हो रहे हमलों को लेकर गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने कहा है कि हालात अब काबू में हैं। मुख्यमंत्री ने राज्य की जनता से शांति और भाईचारा बनाए रखने की अपील की है।

मुख्यमंत्री रूपाणी ने कहा कि इस मामले के मुख्य दोषी को 24 घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया गया था। हम दोषियों को सजा देने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

वहीं उत्तर भारतीय विकास परिषद के अध्यक्ष महेंद्र सिंह कुशवाहा ने दावा किया कि मौजूदा स्थिति को देखते हुए उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और बिहार के करीब 20 हजार लोग गुजरात से बाहर चले गए हैं

उत्तर भारतीयों पर हो रहे हमलों के संबंध में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी बातचीत की है। मुख्यमंत्री रूपाणी ने दोनों मुख्यमंत्रियों को आश्वासन भी दिया है।

रूपाणी ने यह भी दावा किया कि पिछले 48 घंटों में कोई अप्रिय घटना नहीं हुई है। गुजरात के गृह मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा ने कहा कि हिंसा की घटनाओं के सिलसिले में 431 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और 56 प्राथमिकियां दर्ज की गई हैं।

कांग्रेस का नाम लिए बिना जडेजा ने कहा कि यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि क्या यह उन लोगों की साजिश है जो 22 साल से गुजरात की सत्ता से बाहर हैं।

पुलिस ने हमलों के सिलसिले में ठाकोर सेना के कई सदस्यों को गिरफ्तार किया है और कई एफआईआर में संगठन का भी नाम लिया गया है। संगठन के अध्यक्ष और कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर ने आरोप लगाया है कि समुदाय के युवकों को फंसाया जा रहा है।

ठाकोर के आरोप के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में जडेजा ने कहा कि शांति बाधित करने वाले किसी भी व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

जडेजा ने कहा कि पुलिस एक समुदाय के किसी निर्दोष व्यक्ति को परेशान नहीं कर रह रही है। लेकिन जो लोग गुजरात की शांति को बाधित कर रहे हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

वहीं इस मामले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने कहा कि निर्दोष लोगों के साथ ऐसा बर्ताव नहीं होना चाहिए। वे भी भारतीय हैं। अगर किसी एक राज्य में इस तरह की घटनाएं होती हैं तो दूसरे राज्यों में ऐसी घटनाएं होंगी।

मुंबई इसके लिए बड़ा उदाहरण है। अगर कोई व्यक्ति अपराध करता है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए।

बता दें गुजरात के साबरकांठा जिले में 14 महीने की बच्ची से कथित तौर पर रेप के बाद वहां गैर गुजरातियों के खिलाफ हिंसा का माहौल बन गया है।

घटना के बाद से वहां बिहार, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के लोगों को निशाना बनाया जा रहा है। अब बाहरी लोगों में डर इतना बैठ गया है कि वो गुजरात छोड़ने को मजबूर हो रहे हैं।

पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा के मुताबिक इस तरह के हमले पिछले एक हफ्ते में गांधीनगर, मेहसाना, साबरकांठा, पाटन और अहमदाबाद जिलों में हुए हैं। इन घटनाओं के संबंध में 170 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया पर गैर गुजरातियों, खासकर बिहार एवं उत्तर प्रदेश के लोगों के खिलाफ नफरत भरे संदेश फैलाए जाने के बाद ये हमले हुए।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com