Home > Crime > बेगुनाही साबित करने के लिए खौलते तेल में डलवाया हाथ

बेगुनाही साबित करने के लिए खौलते तेल में डलवाया हाथ

Hand dipped in boiling oil to prove innocenceवडोदरा – गुजरात के आनंद जिले में रविवार को चार लोगों को कथित तौर पर एक आदमी की अंगुलियां खौलते तेल में डलवाने के लिए अरेस्ट किया गया।

आनंद जिले के बोरसा तालुका के दाहेवान गांव के निवासी कालाभाई तलपदा ने एक शिकायत दर्ज कराई जिसमें उन्होंने इन चारों द्वारा चोरी के एक मामले में अपनी बेगुनाही साबित करने के लिए खौलते तेल में हाथ की अंगुलियां डलवाए जाने का आरोप लगाया है। कालाभाई की बेटी कनकू तलपदा और दामाद रंजीत तलपदा ने उसके और उसके बेटे अरविंद तलपदा पर उनके घर से कैश चुराने का आरोप लगाया था।

कालाभाई का परिवार कई साल पहले भुज चला गया था और कनकू की शादी भी भुज के रहने वाले रंजीत नामक व्यक्ति से हो गई थी। चोरी की घटना के बाद कालाभाई और अरविंद दाहेवन वापस आ गए थे।

रंजीत ने पिता-पुत्र पर चोरी का आरोप लगाया था और बोरसा तहसील बीजेपी समिति सचिव जयेंद्र परमार को बुलाया था, जिसने उन्हें दाहेवन आने की सलाह दी। 1 जून को उन लोगों ने गांव के कालका माता मठ के पुजारी शिवा तलपदा से संपर्क किया।

इसके बाद चारों आरोपियों-शिवा, जयेंद्र, रंजीत और कनकू ने 1 जून की आधी रात को कालाभाई को अपनी बेगुनाही साबित करने के लिए अपनी अंगुलियां खौलते तेल में डालने के लिए कहा और दावा किया कि अगर वह निर्दोष है तो उसे कुछ नहीं होगा। लेकिन जब कालाभाई की अंगुलियां जल गईं तो उस पर उसकी जमीन बेचकर रंजीत को पैसे लौटाने का दवाब बनाया गया। इन आरोपियों ने रविवार को अरविंद की भी ऐसी ही परीक्षा लेने की योजना बनाई थी।

हालांकि कालाभाई ने शनिवार शाम को शिकायत दर्ज करा दी। रविवार दोपहर में इन चारों आरोपियों को अरेस्ट कर लिया। इन चारों पर आईपीसी की धारा 330 और 324 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

आनंद के डेप्युटी सुपरिटेंडेट ऑफ पुलिस भारती पंड्या ने कहा, ‘यहां पर इस तरह की यह पहली घटना है। हालांकि हमने चारों आरोपियों को अरेस्ट कर लिया है और उन्हें रिमांड पर लेने के लिए स्थानीय कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा। हम इस बात की जांच कर रहे हैं कि इस घटना में और लोग तो शामिल नहीं थे।’

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com