पुजारी की हवस का शिकार बनी दिव्यांग युवती

0
47

धमतरी जिले में दिव्यांग युवती ने मंदिर के पु​जारी पर बलात्कार करने का सनसनीखेज आरोप लगाया है।

आरोपी पुजारी ने वारदात को अंजाम देने के बाद पीड़िता को जान से मारने की धमकी भी दी थी। पीड़िता की तहरीर के आधार पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक, धमतरी शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र में स्थित राम मंदिर परिसर में निवास करने वाले रमाशंकर वैष्णव (28) पर एक दिव्यांग युवती (24) ने रेप का आरोप लगाया है।

इस महीने की 24 तारीख की शाम पीड़िता कंप्यूटर क्लास से वापस घर जा रही थी। उसी वक्त वैष्णव ने उससे कहा कि उसकी मां मंदिर में है।

इसके बाद युवती मंदिर में चली गई। इसी बीच वैष्णव उसे अपने घर ले गया और दरवाजा बंद कर दिया। इस दौरान युवती डर के कारण बेहोश हो गई। उसे जब होश आया तब वैष्णव ने उसे बताया कि उसने उसके साथ रेप किया है। इतना ही नहीं वैष्णव ने युवती से चुप नहीं रहने पर जान से मारने की धमकी भी दी।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इस घटना से युवती डर गई थी। उसने जब अपने परिजनों को घटना की जानकारी दी तब वे लोग उसे लेकर थान आए। यहां आरोपी वैष्णव के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया।

पुलिस ने युवती की शिकायत के आधार पर केस दर्ज करते हुए वैष्णव को गिरफतार कर लिया है। इस मामले की जांच की जा रही है।

मध्य प्रदेश: रेपिस्ट को उम्रकैद

मध्य प्रदेश के मुरैना जिले की एक स्थानीय अदालत ने नाबालिग बालिका का अपहरण करने, उसे बंधक बनाने और उसके साथ बलात्कार करने के जुर्म में 30 वर्षीय शख्स को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है।

इसके साथ ही कोर्ट ने दोषी पर 35 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया है। अंबाह तहसील के अपर सत्र न्यायाधीश डॉक्टर धर्मेंद्र टाडा ने सजा सुनाई है।

बताया गया कि पोरसा क्षेत्र निवासी रवि जाटव ने अपने गांव की नाबालिग लड़की को 30 मई 2016 को अगवा कर भोपाल ले गया।

अभियुक्त ने किशोरी को भोपाल के बाद हैदराबाद, आगरा और पुणे में बंधक बनाकर रखा। इस दौरान उसके साथ बार-बार बलात्कार किया। 19 जून 2016 को पुलिस ने अभियुक्त के कब्जे से किशोरी को बरामद किया।