हनुवंतिया में शराब व मांस परोसा जा रहा है अतिथियों को

खंडवा : भाजपा जिला मीडिया प्रभारी सुनील जैन कहा कि कमलनाथ सरकार ने जानबूझकर न केवल हनुमंतिया को पीछे किया बल्कि यहां जन-जन की भावना से खेलते हुए खुलेआम मांस परोसने का काम चालू कर दिया है जो कि भृत्सना योग्य है।
सुनील जैन के अनुसार नर्मदा सागर बांध के बेकवाटर के कारण उपजे टापूओं को विकसित करने में भाजपा की शिवराज सरकार ने भरसक प्रयास किया। जिसका परिणाम है हनुमंतिया वाटर काम्पलेक्स। पिछले चार साल से शिवराजसिंह चौहान ने अथक प्रयास करके देशव्यापी ब्रांडिंग की, देश विदेश में प्रचार प्रसार किया।

करोड़ों रूपये खर्च करके इसे बनाया। मध्यप्रदेश पर्यटन विकास निगम को हनुमंतिया में वाटर स्पोर्टस की संभावनाओं को खोजने के लिए जल महोत्सव की शानदार शुरूआत की, किंतु कांग्रेस ने इसे मटियामेट कर दिया।

भाजपा जिला मीडिया प्रभारी सुनील जैन कहा कि कमलनाथ सरकार ने जानबूझकर न केवल हनुमंतिया को पीछे किया बल्कि यहां जन-जन की भावना से खेलते हुए खुलेआम मांस परोसने का काम चालू कर दिया है जो कि भृत्सना योग्य है। भाजपा के मुख्यमंत्री शिवराजसिह चौहान ने नर्मदा के पावन तट पर बने हनुमंतिया पर किसी भी कीमत पर न तो शराब परोसने दी और न ही मांस परोसने दिया।

वहीं टेंट सिटी में पर्यटकों को अवैध रूप से शराब परोसी जा रही है। बावजूद भाजपा शासनकाल में लाखों लोग चार साल में हनुमंतिया आये और पर्यटन के क्षेत्र में मध्यप्रदेश का नाम हुआ। किंतु इस बार जल महोत्सव के दौरान ही अतिथियों तक को भोजन में मांस परोसने जाने की घटना ने व्यथित कर दिया।

पहली बार किसी सरकारी आयोजन में अतिथियों को मांस परोसा गया है जिसकी भारतीय जनता पार्टी तीव्र भृत्सना करती है एवं मांग करती है कि हनुवंतिया पर मांसाहार पर रोक लगाई जाए। यह शिकायत भी है कि टेंट सिटी में बिना अनुमति बिना लाईसेंस चोरी छिपे शराब भी पिलाई जा रही है जो कि अत्याधिक निंदनीय कार्य है जिस पर सरकार को तत्काल रोक लगाना चाहिये।

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने खंडवा में हनुमतिंया में महज एक घंटे का समय दिया इतना ही नहीं वे सिंगाजी के महत्व को नकार गये जिससे भक्तों की आस्था भी आहत हुई है। सिंगाजी की पवित्र समाधि का अपना पांच सौ साल पुराना गौरवमयी इतिहास है जिसकी अवेहलना दुर्भाग्यपूर्ण है। प्रेस नोट