INDIA-SOCIETY-PROTEST-CASTE

गांधीनगर- पटेलों को आरक्षण के मुद्दे पर आंदोलन कर रहे हार्दिक पटेल ने सोमवार की रात अपने विवादास्पद ‘रिवर्स दांडी यात्रा’ का नाम बदलकर एकता यात्रा रखा। वहीं, उन्होंने मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल से मुलाकात कर 25 अगस्त को रैली में बल प्रयोग करने वाले पुलिसकर्मियों को निलंबित कर और गिरफ्तार किये गए लोगों को छोड़ने की मांग की।

पटेल और मुख्यमंत्री के बीच पहली मुलाकात के बाद सरकार ने कहा कि ओबीसी कोटा के तहत आरक्षण की मांग पर समुदाय के नेताओं को राज्य ओबीसी आयोग से संपर्क करना होगा। सरकार के प्रवक्ता नितिन पटेल ने भी दावा किया कि पटेल नेता आयोग से संपर्क करने पर राजी हो गए हैं।

यहां मुख्यमंत्री आवास पर मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल और वरिष्ठ मंत्रियों के साथ हार्दिक पटेल और लालजी पटेल सहित पटेल नेताओं की मुलाकात तीन घंटे तक चली। बैठक से आने के बाद हार्दिक ने कहा, बैठक सफल या असफल नहीं कही जा सकती क्योंकि हमारे समुदाय के सदस्यों पर पुलिसिया अत्याचार के संबंध राज्य सरकार ने हमारी मांगों के लिए हमसे समय मांगा है और हमने उनसे कहा कि कारगर कदम उठाए जाने तक हमारा आंदोलन चलता रहेगा।

उन्होंने कहा, हमने अपनी रिवर्स दांडी यात्रा का नाम बदलकर एकता यात्रा करने का फैसला किया है और यह 19 सितंबर से शुरू होगा। हम राज्य के पांच बड़े शहरों में भी जन सभाएं आयोजित करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here