Home > State > Delhi > नारी सम्मान : खट्टर ने पहले रेप के लिए बताया था महिलाओं को दोषी ,अब बोले कश्मीर से बहू लाएंगे

नारी सम्मान : खट्टर ने पहले रेप के लिए बताया था महिलाओं को दोषी ,अब बोले कश्मीर से बहू लाएंगे

नई दिल्ली:हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि जम्मू कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा खत्म किए जाने के बाद वहां से लड़कियां लाने का रास्ता साफ हो गया है। उन्होंने कहा, पहले हमारे मंत्री कहते थे कि बिहार से बहू लानी पड़ेंगी लेकिन अब तो कश्मीर से भी लड़कियां लाने का रास्ता साफ हो गया है। शुक्रवार को एक कार्यक्रम में हरियाणा सीएम ने ये बातें कहीं।

एक कार्यक्रम में हरियाणा के खराब लिंग अनुपात से संबंधित बात पर बोलेते हुए खट्टर ने कहा, हमारे मंत्री धनखड़ कहते हैं कि वे बिहार से बहू लेकर आएंगे। पर आजकल लोग कह रह हैं कि कश्मीर से भी रास्ता साफ है। हम तो कश्मीरी लड़कियों को लाएंगे।

एक कार्यक्रम में हरियाणा के खराब लिंग अनुपात से संबंधित बात पर बोलेते हुए खट्टर ने कहा, हमारे मंत्री धनखड़ कहते हैं कि वे बिहार से बहू लेकर आएंगे। पर आजकल लोग कह रह हैं कि कश्मीर से भी रास्ता साफ है। हम तो कश्मीरी लड़कियों को लाएंगे।

खट्टर से पहले भाजपा के एक और विधायक ने भी इसी तरह की टिप्पणी की थी। मुजफ्फरनगर के खतौली से विधायक विक्रम सैनी ने कहा था कि 370 हटने पर लोगों को खुश होना चाहिए कि गोरी-गोरी कश्मीरी लड़कियों से शादी करने का रास्ता साफ हो गया है। जो कुंवारे हैं, उनकी शादी वहीं करा देंगे।

बीते हफ्ते सरकार ने ससंद में बिल लाकर जम्मू कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा खत्म कर दिया था। इसके तहत जम्मू कश्मीर को को अब दो केंद्र शासित राज्यों में बांट दिया गया है। जिसमें एक लद्दाख और एक जम्मू कश्मीर। इस बिल के आने के संसद में बाद से ही लगातार सोशल मीडिया पर भी इस तरह के मैसेज चल रहे हैं, जिसमें कश्मीर की स्त्रियों को लेकर अभद्र टिप्पणियां की जा रही हैं। दरअसल, विशेष राज्य का दर्जा होने के चलते पहले कश्मीर की लड़की के देश के किसी दूसरे राज्य में शादी करने पर बतौर कश्मीरी उसके कई अधिकार खत्म हो जाते थे। इसी को आधार बनाकर ये मैसेज चलाए जा रहे हैं।

Scroll To Top
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com