Home > State > Harayana > हरियाणा जाट आरक्षण: आठ जिले सेना के हवाले

हरियाणा जाट आरक्षण: आठ जिले सेना के हवाले

jats-reservationचंडीगढ़– हरियाणा में जाट आरक्षण की मांग को लेकर भड़का आंदोलन हिंसक होने से दिल्ली-रोहतक बाइपास के पास हालात को काबू करने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी। इसमें एक शख्स की मौत हो गई जबकि 9 लोग घायल हो गए। वहीँ हरियाणा के डीजीपी के मुताबिक, रोहतक में प्रदर्शनकारियों ने सर्किट हाउस में आग लगा दी है। प्रदेश के आठ जिलों में सेना बुलाई गई है।

दरअसल, रोहतक में उग्र भीड़ ने हरियाणा के वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्‍यु के घर पर हमला बोल दिया और वहां तोड़फोड़ कर आग लगाने की कोशिश की गई। कैप्टन के घर पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। इससे पहले रोहतक में मोबाइल और इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई। हंगामे के चलते झज्जर और सोनीपत में भी अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है। इस आंदोलन की वजह से रेल और सड़क दोनों मार्ग बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं। कई जगह जाम लगा हुआ है।

ज्ञात हो कि गुरुवार को रोहतक कोर्ट परिसर में आरक्षण की मांग को लेकर दो गुटों के आपस में भिड़ंत के बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने सर्वदलीय बैठक बुलाई थी जिसमें उन्होंने जाट नेताओं से बातचीत की अपील की।

पिछले कई दिनों से आरक्षण की मांग को लेकर हरियाणा में जाट प्रदर्शन हो रहा है। यूपीए सरकार के समय से जाटों को मिले आरक्षण को पिछले साल सुप्रीम कोर्ट ने रद्द कर दिया था। जाटों का प्रदर्शन रोहतक-झज्जर क्षेत्र से सोनीपत, भिवानी, हिसार, फतेहाबाद और जींद जिलों तक फैल गया है। प्रदर्शनों में बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल हो रही हैं। सोनीपत में प्रदर्शनों में जहां वकील शामिल हुए, बड़ी संख्या में छात्रों ने रोहतक में प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारी सरकारी नौकरियों और शैक्षणिक संस्थानों में अन्य पिछड़ा वर्ग के तहत आरक्षण की मांग कर रहे हैं। [DEMO_PIC]

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com