Home > India > ‘स्वतन्त्रता दिवस’ पर भाषण के दौरान प्राचार्य ने की देवी देवताओं पर अभद्र टिप्पणी, ऑडियो वायरल

‘स्वतन्त्रता दिवस’ पर भाषण के दौरान प्राचार्य ने की देवी देवताओं पर अभद्र टिप्पणी, ऑडियो वायरल

अमेठी: शिक्षक हमारे जीवन को संवारने में एक बड़ी और महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं सफलता प्राप्ति के लिए वो हमारी कई प्रकार से मदद करते हैं, जैसे हमारे ज्ञान, कौशल के स्तर, विश्वास आदि को बढ़ाते हैं और हमारे जीवन को सही आकार में ढ़ालते है लेकिन अमेठी में तो एक प्राचार्य पर ही भारतीय संस्कृति एवं हिंदू धर्म (देवी देवताओं )पर अभद्र टिप्पणी करके भावनाओ को आहत करने का गम्भीर आरोप लगा है ।

जनपद के संजय गाँधी पॉलिटेक्निक में तैनात प्राचार्य पर बीते 15 अगस्त को अपने सम्बोधन के दौरान भारतीय संस्कृति व देवी देवताओं पर अभ्रद टिप्पणी करने का आरोप लगा है अभ्रद टिप्पणी के बाद एबीवीपी ने डी एम अमेठी व राज्य मंत्री सुरेश पासी को ज्ञापन सौंपते हुए गिरफ्तारी कर कड़ी कार्यवाही की मांग की है साथ ही उचित कार्यवाही न होने की दशा में उग्र आंदोलन की चेतावनी भी दी है ।

क्या है मामला-
अमेठी के जगदीशपुर में बने संजय गाँधी पॉलिटेक्निक के छात्रों ने कार्यरत प्राचार्य शैलेन्द्र प्रताप पर बीते 15 अगस्त के शुभ अवसर पर अपने सम्बोधन मे भारतीय संस्कृति व हिन्दू धर्म को लेकर अभ्रद टिप्पणी करने का आरोप लगाया है यही नही एबीवीपी ने सुबूत के तौर पर विवादित सम्बोधन का एक कथित ऑडियो रिकॉर्डिंग भी डी एम अमेठी को सौंपने की बात कही है एवीबीपी का कहना है कि प्राचार्य की इस हरकत से हम छात्रों की भावनाएं आहत हुई है एवीबीपी गौरीगंज के नगर मंत्री अनूप शुक्ल और जिला संगठन मंत्री रत्नेश त्यागी ने बताया कि हम लोगो ने डी एम अमेठी व राज्यमंत्री सुरेश पासी को ज्ञापन सौंप प्राचार्य की गिरफ्तारी के साथ कड़ी कार्यवाही की मांग की है साथ ही प्राचार्य के खिलाफ कार्यवाही न होने की स्थिति हमारा संगठन उग्र आंदोलन करेगा । ज्ञापन के मौके पर विभाग संयोजक अरुण शर्मा,तूफान सिंह,अवनीश तिवारी,आशीष शर्मा,आलोक,शर्मा अजय तिवारी सहित कई अन्य अभाविप के पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे ।

शिक्षकों और छात्रों के संबंधों में आ रही खटास –
मामले चाहे जो भी हो लेकिन देश भर के स्कूलों में इन दिनों शिक्षकों और छात्रों के संबंधों में एक तनाव लगातार देखने को मिल रहा है जबकि जानकारों के अनुसार पूर्व में शिक्षक और छात्र में आपसी बहुत मधुर संबंध होते थे आज इनके बीच बढ़ रहे फासले और स्कूलों में जा रहे बच्चों के प्रति अभिभावकों में बढ़ रही असुरक्षा की भावना चिंता का विषय बन चुकी है।
रिपोर्ट@राम मिश्रा

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com