Home > Lifestyle > Health > प्रेम और वासना में अंतर को समझ सकती हैं आंखें

प्रेम और वासना में अंतर को समझ सकती हैं आंखें

एक अध्ययन में यह पाया गया है कि आंखें प्रेम और वासना में अंतर को समझ सकती हैं। इस तरह साफ है कि निगाहें बहुत कुछ कहती हैं और अगली बार आप यदि डेट पर जाएं तो संभलकर जाना होगा। अध्ययन में बताया गया है कि यदि कोई किसी अजनबी के चेहरे पर ही निगाह रखता है, तो इससे पता चलता है कि उसके दिल में अजनबी के लिए प्यार है। लेकिन यदि उसकी निगाह शरीर के अन्य भागों पर भटकती है, तो तय है कि उसकी नजरें प्रेम की नहीं बल्कि वासना की हैं।

शिकागो यूनिवर्सिटी के हाई-परफॉर्मेंस इलेक्ट्रिकल न्यूरो-इमेजिंग लेबोरेटरी के निदेशक स्टेफनी कैकियोप्पो का कहना है कि निष्कर्ष निकाला जाए तो आंखों की गति से पता चल जाता है कि अजनबी के प्रति आपके दिल में प्यार है या वासना।

दरअसल, इस अध्ययन के तहत शोधकर्ताओं ने दो विभिन्न भावनात्मक अवस्थाओं रोमांटिक लव और वासना के आकलन के लिए परीक्षण किए। इसके अंतर्गत जेनेवा यूनिवर्सिटी के छात्र और छात्राओं को दो विपरीत लिंगी युवाओं की तस्वीरें दिखाई गईं, जिसमें वे एक दूसरे से बातचीत कर रहे हैं। इसके अलावा उन्हें विपरीत लिंगी युवाओं की वह तस्वीरें भी दिखाई गईं, जिसमें वे सीधे कैमरे को देख रहे हैं।

इस प्रक्रिया के बाद में प्रतिभागियों से पूछा गया कि तस्वीरों में मौजूद लोगों की आंखों में प्यार झलक रहा है या वासना। तो इसके बाद जो आंकड़े सामने आए, उसमें निगाह के बारे में चैंकाने वाले परिणाम आए।

कैकियोप्पो के अनुसार, जिन तस्वीरों में दो विपरीत लिंगी एक दूसरे के चेहरों को देख रहे थे, उनके बारे में कहा गया कि उनकी आंखों में प्यार है।

वहीं जिनमें निगाहें चेहरे से फिसलकर शरीर के अन्य भागों पर थी, उनके बारे में कहा गया कि उनकी आंखों में वासना है। इस तरह निगाह से ही पता चल जाता है कि आपके दिल में प्यार है या वासना।

Facebook Comments
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com