demo pic

जयपुर : जींस पहनने और मोबाइल रखने से लड़कियां बिगड़ जाती है। इस सोच के कारण पंचों ने गांव में लड़कियों के जींस पहनने और मोबाइल रखने पर पाबंदी लगा दी है।

मामला धौलपुर जिले के बल्दियापुर गांव से जुड़ा है जहां पंचायत ने तुगलकी फरमान जारी कर लड़कियों के जींस पहनने और मोबाइल रखने पर पूरी तरह पाबंदी लगा दी है। पंचायत के लोगों का मानना है कि जींस और मोबाइल के उपयोग से समाज की मान-मर्यादा बिगड़ रही है और इसे कोई भी समाज सहन नहीं करेगा। दरअसल, कुशवाह समाज की ये पंचायत बुलाई तो गई थी कि गांव में गुटखा, शराब, जुआ सहित अन्य बुराइयों से समाज को मुक्त करने के लिए, लेकिन इसमें ये तुगलकी फरमान भी जारी कर दिया गया।

हालांकि, पंचायत ने यह फैसला भी सुनाया है कि गांव में कोई भी शराब पीते या बेचते हुए पकड़ा जाता है तो उस पर 1100 रुपए का जुर्माना भी लगाया जाएगा। साथ ही ऐसे लोगों की शिकायत करने वाले को भी 500 रुपए का ईनाम दिया जाएगा। साथ ही, पंचों ने यह भी फैसला लिया है कि यदि कोई भी विवाद होता है तो सबसे पहले उसकी सुनवाई पंचायत में ही होगी। य​दि पंचायत विवाद को सुलझाने में नाकाम रहती है तभी पीड़ित पुलिस में जाएगा। पंचायत में ग्रामीणों ने गुटखा और तंबाकू उत्पादों की होली जलाकर नशामुक्ति का संकल्प भी लिया।

उधर, लड़कियों को लेकर ​पंचों का फरमान सामने आने के बाद राज्य महिला आयोग ने मामले में संज्ञान लिया है। आयोग अध्यक्ष सुमन शर्मा ने रविवार को धौलपुर जिला कलक्टर से बातचीत कर जानकारी जुटाई है।