Home > State > Himachal Pradesh > मैदान छोड़कर भागी कांग्रेस, प्रचार में नहीं आ रहा मजा- PM मोदी

मैदान छोड़कर भागी कांग्रेस, प्रचार में नहीं आ रहा मजा- PM मोदी

हिमाचल के पालमपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रैली कर बीजेपी के लिए वोट मांगे। पीएम ने यहां चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि हिमाचल में बीजेपी के मुख्यमंत्रियों को पानी वाले मुख्यमंत्री, पर्यटन वाले मुख्यमंत्री के नाम से जाना जाता है जबकि कांग्रेस के मुख्यमंत्री को भ्रष्टाचार वाले मुख्यमंत्री के नाम से जाना जाता है। उन्होंने कहा कि सरकार मध्यम वर्ग की उसका हक दिलाने के लिए प्रतिबद्ध है और हमारी योजनाओं के जरिए मध्यम वर्ग को लाभ हो रहा है।

कांग्रेस सिर्फ शोक मना सकती है

नोटबंदी की पहली बरसी पर कांग्रेस के कालाधन दिवस पर पीएम मोदी ने निशाना साधा कि कांग्रेस मेरा पुतला जला रही है क्योंकि जिन लोगों ने बेईमानी से पैसा बनाया है। उन्हें सजा तो भुगतनी होगी। मोदी ने कहा की जिन्होंने देश को लूटा है उन्हें पाई-पाई का हिसाब देना होगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास अब शोक मनाने के अलावा कुछ भी नहीं बचा है।

ऊना में की चुनावी रैली

हिमाचल के ऊना में रैली को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा कि 20 साल से एक भी चुनाव ऐसा नहीं हुआ जब हिमाचल न आया हूं, लेकिन 20 साल में मैंने इस बार की तरह चुनाव नहीं देखा। उन्होंने कहा कि इस बार हिमाचल में बीजेपी की आंधी चल रही है। पीएम ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश में भ्रष्टाचार, कानून व्यवस्था और महिलाओं की सुरक्षा के खिलाफ लोगों का गुस्सा फूट पड़ा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बार हिमाचल का चुनाव कोई पार्टी या नेता नहीं बल्कि हिमाचल की जनता लड़ रही है। कांग्रेस सल्तनत को सबक सिखाने का फैसला जनता ने कर लिया है। उन्होंने कहा कि ऐसा एकतरफा चुनाव कभी नहीं हुआ और प्रचार में भी मजा नहीं आ रहा है।

राजीव के बहाने कांग्रेस पर निशाना

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के बहाने कांग्रेस पर हमला करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि उनके हर बयान पर उस वक्त के कांग्रेस चाटुकार नेता ताली बजाते थे। राजीव गांधी के 15 पैसे वाले बयान का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि एक रूपया अगर ऊपर से भेजा जाता था तो वह कौन सा पंजा था जो उसे 15 पैसे कर देता था, 85 पैसे कहां चले जाते थे। पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने आजादी के बाद सबसे लंबे वक्त तक देश चलाया है।

केंद्र की योजनाओं का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि 57 हजार करोड़ रुपए मोदी आकर बिचौलियों से छीन लिए और वह पैसा जनता की भलाई के लिए काम आया। उन्होंने कहा कि विपक्षी नेता हर समस्या के लिए मोदी को जिम्मेदार ठहराते हैं उसका कारण है कि ये 57 हजार करोड़ रुपए जिनकी जेब में जाते थे, अब वो बंद हो गया। इसी वजह से वह मोदी को घेरने में लगे रहते हैं।

पीएम ने कहा कि देश की जनता सिर्फ अपना हक चाहती है और हमारी सरकार सामान्य लोगों की आशाओं को पूरा करने में दिन-रात जुटी है। उन्होंने कहा कि पहले योजनाओं का एलान भर किया जाता था, न बजट आवंटित होता था और न ही काम शुरू किया जाता था, लेकिन अब सरकार काम पहले शुरू करती है।

जीएसटी में होगा सुधार

जीएसटी पर बोलते हुए पीएम ने कहा कि काराबोरियों को जो भी समस्याएं आई थीं उन्हें काउंसिल ने दूर किया है। बाकी और भी जो समस्याएं हैं उन्हें राज्यों के विरोध के चलते नहीं दूर किया जा सका। पीएम ने कहा कि 9-10 तारीख को होने वाली जीएसटी काउंसिल की बैठक में बची हुई समस्याओं का भी हल निकाल लिया जाएगा। पीएम ने कहा कि यह सरकार देश की भलाई के लिए अच्छा से अच्छा निर्णय लेने का प्रयास कर रही है।

बेनामी संपत्ति के बहाने पीएम मोदी ने कहा कि हमें बीमारियां पुरानी सरकार से मिली है। उन्होंने कहा कि बेनामी संपत्ति पर संसद से कानून पास होने के बावजूद अपने फायदे के लिए पिछली सरकार ने 30 साल तक कानून को लागू नहीं होने दिया। मोदी ने कहा कि हमारी सरकार ने आते ही यह कानून और कड़ा कर लागू किया अब विरोधियों को परेशानी हो रही है। पीएम मोदी ने कहा कि देश का लूटा हुआ माल वापस आना चाहिए।

कालेधन पर कसा शिकंजा

टेरर फंडिंग का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा कि अगर कालेधन पर कानूनी शिकंजा नहीं कसा जाता को आतंकियों की मदद करने वाले दिल्ली की जेल में नहीं पड़े होते। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान से आए पैसे से भारतीय सेना के जवानों को पत्थर मारे जाते थे, ये सारा खेल अब बंद हो गया है। कांग्रेस को अब इससे परेशानी है और अब कांग्रेस पार्टी 8 नवंबर को कालाधन दिवस मनाने जा रही है, लेकिन देश ने कालाधन विरोधी दिवस मनानी की तैयारी कर ली है।

चुनावी अपील करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि 9 नवंबर को कमल के निशान पर बटन दबाएं ताकि बेईमानों से देश को आजादी मिल सके और मुझे दिल्ली से हिमाचल की सेवा का अवसर मिल सके। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसके बाद पीएम कुल्लू में जनसभा को संबोधित करेंगे। कार्यक्रम के मुताबिक पीएम मोदी 3 बजे कुल्लू में जनसभा करेंगे।

9 नवंबर को वोटिंग

बता दें कि हिमाचल में 9 नवंबर को मतदान होना है जबकि मतगणना 18 दिसंबर को होगी। यहां कुल 68 सीटों पर मतदान किया जाएगा। बीजेपी और कांग्रेस के बीच यहां मुख्य मुकाबला रहता है। दोनों पार्टियों ने अपने सीएम उम्मीदवार भी घोषित कर दिए हैं। बीजेपी ने पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल को सीएम कैंडिडेट घोषित किया है तो कांग्रेस ने एक बार फिर निवर्तमान मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के नेतृत्व में ही चुनाव लड़ने का फैसला किया है।

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com