Home > Crime > गुंडों का खौफ, थाना छोड़ भागी पुलिस, होमगार्ड शहीद

गुंडों का खौफ, थाना छोड़ भागी पुलिस, होमगार्ड शहीद

crime-rate-scene-sapa-akhilesh yadavप्रतापगढ़- उत्तर प्रदेश में गुंडागर्दी कितनी चरम पर है और गुंडे कितने बेख़ौफ़ हैं इस घटना से अंदाज़ा लगाया जा सकता है ! बेखौफ बदमाशो ने बहुचर्चित इलाके कुंडा के मानिकपुर कोतवाली में जमकर मचाया उत्पात । थाने के अंदर घुसकर अपने गिरफ्तार साथी को छुड़ाने के लिए किया कई राउंड फायरिंग और बमबारी । विरोध करने और लॉकप की चाभी न देने पहरे पर तैनात होमगार्ड महादेव को उतारा मौत के घाट । गोलीबारी और फायरिंग की दहसत से पूरा थाना होमगार्ड को छोड़कर जान बचाकर भागे ।

मुख्यालय से 70 किलोमीटर दूर मानिकपुर थांने के अंदर असलों से लैस होकर आये दर्ज़न भर बदमाशो ने अपने गिरफ्तार साथी राजा बाबू उर्फ़ करमचंद यादव को छुड़ाने के लिए धावा बोल दिया और थाने में घुसकर कई राउंड फायरिंग किया !

जवाबी कार्यवाही की बजाय थानेदार और पुलिस कर्मी अपनी जान बचाकर भाग गए लेकिन पहरे आर तैनात होमगार्ड ने बदमाशो को लॉकअप की चाबी देने से मना कर दिया जिससे नाराज़ बदमाशो ने उसके कनपटी पर सटाकर गोली मार दी ! जिससे उसकी मौत हो गयी ।

सूचना के बाद पहुंची पुलिस अधीक्षक ने तीन नामजद बालकृष्ण मिश्र निवासी बछरौली हथिगवां इमरान निवासी लावना ,शिव मणि तिवारी और तीन अज्ञात बदमाशो मुकदमा दर्ज़ कर उनको गिरफ्तार करने के लिए कई थानो की फ़ोर्से लगा दी है और उनका दवा है कि जल्द ही बदमाशों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी ।

होमगार्ड की ह्त्या की जानकारी उनके परिजनों को भी पुलिस वाले नहीं दिए बल्कि जब परिजनों ने फोन करके पूछा तो उन्हें थाने बुला लिए और जब परिजन थाने अहुंचे तो होमगार्ड का शव देखकर उनके होश उड़ गए ।

परिजनों का मानना है कि शहीद महादेव मिश्र की किसी से कोई रंजिश नहीं थी और वह ड्यूटी पर तैनात थे । जब बदमाश पहुंचे तो थानेदार को गाली दिए और फायरिंग शुरू कर दिए जिसके बाद सभी पुलिस कर्मी अपनी जान बचाकर भाग निकले और होम गार्ड के कनपटी पर गोली मारकर मौत के घात उतार दिए ।
रिपोर्ट- हर्ष मिश्रा

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com