कमल का बटन इतनी जोर से दबाना कि वोट कमल को पड़े, करंट शाहीन बाग में लगे – अमित शाह

दिल्ली विधानसभा चुनाव में प्रचार को रफ्तार देने के लिए उतरे गृहमंत्री अमित शाह ने सोमवार को दिल्ली के रिठाला ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि दिल्ली को सुरक्षित करने लिए बीजेपी को वोट दीजिये।

उन्होंने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि आपका वोट दिल्ली और देश दोनों के अहम है। वहीं उन्होंने दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल को घेरते हुए कहा कि केजरीवाल सरकार को झूठ में नंबर वन का अवॉर्ड मिलेगा।

शाह ने कहा, केजरीवाल कहता है कि पाकिस्तानियों की चिंता है। शर्म करो और चुल्लूभर पानी में डूब मरो।

पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बंग्लादेश से आनेवाले शरणार्थियों को हम गले ज़रूर लगाएंगे। शाह ने आरोप लगाया कि कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने पूरी दिल्ली में भ्रम फैलाकर दंगे कराए हैं।

गृहमंत्री ने आगे कहा कि आप लोगों ने शरजील का वीडियो देखा है न? उस पर देशद्रोह का मुकदमा दायर हुआ है। केजरीवाल को जवाब देना होगा कि वो शाहीन बाग के साथ खड़े हैं या नहीं?

उन्होंने आगे कहा कि कमल का बटन इतनी जोर से दबाना कि वोट कमल को पड़े और करंट शाहीन बाग में लगे।

हाल ही में दिल्ली के मटियाला क्षेत्र में एक रैली को संबोधित करते हुए शाह ने सीएम केजरीवाल को घेरते हुए कहा था कि पिछले पांच साल में केजरीवाल ने एक भी चुनाव नहीं जीता। पहले वाराणसी में हारे, हरियाणा में हारे, पंजाब में हारे, एमसीडी चुनाव में हारे, फिर लोकसभा चुनाव में भी सारी सीटें हार गए। एक चुनाव जिताने के बाद सारे चुनाव दिल्ली की जनता ने उन्हें हराए हैं।’’

काम करने वाली सरकार चाहिए या धरना प्रदर्शन करने वाली सरकारउन्होंने कहा कि कुछ दिन बाद दिल्ली की जनता वोट डालकर दिल्ली की नई सरकार तय करने वाली है।

शाह ने कहा कि आपका एक वोट ये तय करेगा कि पांच साल के लिए मोदी जी की तरह काम करने वाली सरकार चाहिए या धरना प्रदर्शन करने वाली सरकार चाहिए? ये आपको तय करना होगा।

आप और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा कि दो साल पहले जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में भारत विरोधी नारे लगे। मोदी जी ने इनको जेल में डाला तो तुरंत केजरीवाल और राहुल एंड कंपनी वहां पहुंच गई और कहने लगे कि ये उनको बोलने की आजादी है।

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शाहीन बाग में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन को लेकर भाजपा के हमले पलटवार करते हुए सोमवार को केंद्र की सत्तारूढ़ पार्टी पर ‘गन्दी राजनीति’ करने का आरोप लगाया और कहा कि गृह मंत्री अमित शाह एवं दूसरे मंत्रियों को शाहीन बाग जाना चाहिए तथा लोगों से बातचीत कर रास्ता खुलवाना चाहिए।

आम आदमी पार्टी के नेता ने यह दावा भी किया कि भाजपा शाहीन बाग में रास्ता खुलवाना ही नहीं चाहती और यह सड़क आठ फरवरी (मतदान के दिन) के बाद खुल जाएगी।

केजरीवाल ने संवाददाताओं से कहा, ‘मुझे दुख है कि भाजपा इस मुद्दे पर गन्दी राजनीति कर रही है। शाहीन बाग में जाम से लोगों को बहुत तकलीफ हो रही है। मैं कई बार कह चुका हूँ कि प्रदर्शन संवैधानिक अधिकार है लेकिन इससे किसी को तकलीफ नहीं होनी चाहिए।’

उन्होंने कहा, ‘भाजपा के लोग कह रहे हैं कि केजरीवाल रास्ता खुलवाने की अनुमति नहीं दे रहे हैं। चलो अनुमति दे दी। एक घण्टे में रास्ता खुलवाओ।’