killer

डिंडौरी- अभी मेहंदी पूरी तरह छूटी भी नहीं थी ! जिसने सात फेरों के दौरान जीवनभर साथ निभाने का वचन दिया था, उसी पति ने शादी के 15 दिन बाद ही नवविवाहिता को मौत के घाट उतार दिया।

यही नहीं आरोपी अपनी नई नवेली दुल्हन को मौत के घाट उतारने के बाद घर में ताला लगाकर भाग गया और दूसरे दिन शनिवार को अपनी मौसी को घर में कुछ अनहोनी की सूचना दी। जिसके बाद हत्या का राज खुला। मामला डिंडौरी जिले की विक्रमपुर चौकी के दुहनिया गांव का है।

जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत दुहनिया के पटपरा टोला निवासी प्रहलाद सिंह धुर्वे का विवाह 15 दिन पूर्व उमरिया जिले के डुलहरी गांव की चंपा बाई से हुआ था।

दो दिन पूर्व ही प्रहलाद अपनी पत्नी को मायके से लेकर आया था। शुक्रवार को किसी बात को लेकर आरोपी ने नवविवाहिता चंपा बाई की हत्या कर दी।

इसके बाद शनिवार को आरोपी प्रहलाद ने अपनी मौसी को फोन कर बताया कि उसके घर जाकर देखो कुछ अनहोनी हो गई है।

सूचना मिलते ही मौसी प्रहलाद के घर गई और पंचों की मौजूदगी में घर का ताला तुड़वाया तो वहां चंपा बाई का शव पड़ा था। इसके बाद उन्होंने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस के अनुसार मामले को जांच में लिया गया था। आरोपी के गिरफ्तार होने के बाद ही हत्या का कारण सामने आएगा। एजेंसी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here