दाम बढ़ गए हैं तो कुछ खर्चे कम कर दें जनता – भाजपा मंत्री

0
10

कांग्रेस ने आज अन्य विपक्षी पार्टियों के साथ पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ भारत बंद का आयोजन किया है। जिस पर अब सियासत हो रही है। अब राजस्थान से भाजपा मंत्री राजकुमार रिणंवा का भी बयान आया है।

उन्होंने सरकार का बचाव करते हुए कहा है, ‘अंतराष्ट्रीय मार्केट में जो क्रूड ऑयल होता है उस हिसाब से चलता है, सरकार कोशिश कर रही है। इतने खर्चे हैं, बाढ़ है चारों तरफ, इतनी खपत है। जनता समझती नहीं है कि क्रूड ऑइल का दाम बढ़ गया तो कुछ खर्चे कम कर दें।’

मंत्री के ऐसे बयान पर राजस्थान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा, ‘भाजपा नेतृत्व की ओर से ऐसी टिप्पणियां हमें बताती हैं कि वो कितने अभिमानी हैं, वह लोगों की जरूरतों के प्रति असंवेदनशील हैं। जब लोग महंगाई और पेट्रोल की कीमतों से परेशान हो रहे हैं तो वह अपने बयानों से उसे और भी ज्यादा बदतर बना देते हैं।

वहीं पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस के नेतृत्व में 16 विपक्षी दलों के नेताओं ने सोमवार को एक मंच पर आकर नरेंद्र मोदी सरकार को घेरा और आगामी लोकसभा चुनाव में एकजुट होकर लड़ने एवं भाजपा को हराने का आह्वान किया।

कांग्रेस द्वारा आहूत ‘भारत बंद’ के तहत आयोजित विरोध प्रदर्शन में ज्यादातर विपक्षी पार्टियों के नेता एक मंच पर आए। कांग्रेस का कहना है कि 16 दलों के नेताओं ने मंच साझा किया, लेकिन पांच-छह अन्य पार्टियां भी अपने स्तर से ‘भारत बंद’ में शामिल हैं।

विरोध प्रदर्शन में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) की प्रमुख सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, राकांपा प्रमुख शरद पवार और कई अन्य दलों के नेता शामिल हुए।

कैलास मानसरोवर यात्रा से कल रात लौटे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और कई अन्य विपक्षी नेताओं ने राजघाट से रामलीला मैदान तक मार्च भी किया।