illegal liquor business in Burhanpur
illegal liquor business in Burhanpur

बुरहानपुर : सरकार इन दिनों जनता के स्वस्थ्य को देखते हुए योग को महत्व देते हुए योग दिवस संपूर्ण देश मे आयोजित किया जाने वाला है ताकि जनता का स्वास्थ्य अच्छा रहे। वहीं अवैध शराब के चलते जनता का स्वास्थ्य बिगड़ रहा है, अवैध तरीके से बिकने वाली शराब पीकर लोग अपना स्वयं का स्वास्थ्य एवं परिवार नष्ट कर रही है उसके बावजूद भी प्रशासन इस अवैध शराब बिक्री पर पुरी तरह प्रतिबंध लगाने में असक्षम साबित हो रही है।

समाजसेवी राजेश मावले ने बताया कि बुरहानपुर में आज प्रत्येक ग्राम में अवैध शराब बिक्री हो रही है, इतना ही नहीं बुरहानपुर के अनेक ब्रांड में अवैध शराब की दुकाने सरेआम लगी हुई है उसके बावजूद भी ना तो आबकारी विभाग ना ही जिला प्रशासन इस पर कोई प्रतिबंध लगाकर कार्यवाही कर रहा है, जिसके चलते लोगों का स्वास्थ्य बिगड़ रहा है एवं कई परिवार उजड़ कर नष्ट हो रहे है।

अनेक परिवारों ने इस अवैध शराब ने अपनी चपेट में ले रखा है जिसके कारण अनेक परिवारों में प्रतिदिन झगड़े, विवाद एवं महिलाओं पर अत्याचार बढ़ रहे है वहीं बेरोजगार युवक इस अवैध शराब की चपेट में आसानी से आकर अपना भविष्य बिगाड़ रहे है। वहीं सरकार योग एवं सफाई अभियान पर ध्यान दे रहे है। राजनीति से जुड़े लोगों के द्वारा इस अवैध शराब का व्यवसाय संपूर्ण जिले में किया जा रहा है, सामाजिक कार्यकर्ताओं के द्वारा इस पर प्रतिबंध लगाने हेतु आवाज उठाने के बाद भी इस पर प्रतिबंध नहीं लगा रहा है। गरीब व्यक्ति पुरा दिन मेहनत कर योग कर लेता है किंतु पुरे दिन की कमाई वह अपने परिवार को न देते हुए अवैध शराब की लत में जीवन एवं पैसा बर्बाद कर रहा है।

यदि सरकार लोगों के स्वास्थ्य के प्रति इतना चिंताजनक है तो निष्चित ही अवैध शराब पर षिघ्रता-षिघ्र प्रतिबंध लगाती किंतु राजनीतिक संरक्षण के चलते बिकने वाली अवैध शराब बिक्री पर कोई प्रतिबंध नहीं लगना इसी बात को इंगित करता है कि सरकार लोगों के स्वास्थ्य के प्रति कितनी चिंताजनक है। सरकार अमीर एवं उद्योगपति कें स्वास्थ्य एवं अधिकारों के प्रति सजग है किंतु जिस जनता ने भाजपा पर भरोसा कर अपना मत दिया है उन गरीब महिलाओं से पुछे कि उनके घर का चुल्हा कैसे जलता है क्योंकि अवैध शराब के कारण कई बार इनके घर का चुल्हा बंद ही रहता है और घर में विवाद झगडे होकर इन्हें अत्याचार का सामना करना पड़ रहा है।

समाजसेवी राजेष मावले ने बताया कि अवैध शराब बिक्री पर प्रतिबंध लगाने के संबंध में अनेकों बार उनके द्वारा सक्षम अधिकारियों के समक्ष षिकायते की अनेकों ज्ञापन दिये किंतु अवैध शराब बिक्री पर कोई प्रतिबंध नहीं लगा है। जिले में अवैध शराब का कारोबार बड़े पैमाने किया जा रहा है किंतु ना तो पुलिस प्रषासन, ना ही आबकारी विभाग ना ही जिला प्रषासन इस ओर ध्यान दे रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here