भड़के उन्माद के बाद हुई हत्या का आरोपी पुलिस गिरफ्त में - Tez News
Home > Crime > भड़के उन्माद के बाद हुई हत्या का आरोपी पुलिस गिरफ्त में

भड़के उन्माद के बाद हुई हत्या का आरोपी पुलिस गिरफ्त में

Untitled_0015 005खंडवा [ TNN ] खंडवा मे फेसबुक आईडी हेक कर धर्म  विशेष के विरूध्द आपत्तिजनक पोस्ट करने के बाद भडके उन्मांद में हुई सुशील कुमार पिता नारायणराव पुंडगे की हत्या के आरोपी को पुलिस ने अपनी गिरफत में ले लिया है | पुलिस अधीक्षक मनोज शर्मा ने पत्रकारवार्ता में यह जानकारी दी उन्होने बताया कि पुलिस ने एक आरोपी  को हत्या के आरोप में गिरफतार किया पुलिस के मुताबिक अभी आरोपी के 3 सहयोगी जिनकी गिरफ़्तारी होना शेष है ।

प्रेस कांफ्रेस में खंडवा पुलिस अधीक्षक मनोज शर्मा ने बताया कि 30 जुलाई को आपत्तिजनक पोस्ट डालने के बाद भडके उन्माद का फायदा उठाकर सामाजिक तानाबाना बिगाडने के उद्देष्य से शहर के कुछ युवक अलग-अलग क्षेत्रो में एकत्रित हुए इसी दौरान शर्मा गैरेज के पास सुशील कुमार की हत्या कर दी गई पुलिस अधीक्षक ने बताया कि शहर कि फिजा बिगाडने के लिए हत्या को अंजाम दिया गया ।

श्री शर्मा ने बताया कि आरोपी ने  अपने 3 अन्य साथियो ने वहा से गुजर रहे सुशील कुमार की चाकू से हत्या कर दी । पुलिस ने दावा किया की इस घटना के पीछे आरोपियों की मनसा शहर की फ़िज़ा बिगड़ना थी । गिरफ्तार आरोपी को पुलिस कल कोर्ट में पेश  कर रिमांड पर लेकर और अधिक पुछताछ करेगी । इस पूरे मामले में आरोपी के 3 सहयोगियो की गिरफतारी होना शेष है ।

आरोपी को पकडऩे में कोतवाली टीआई अनिल शर्मा व मोघट टीआई रविन्द्र यादव के साथ प्रधान आरक्षक महेन्द्र यादव, सत्येन्द्र सिंह, दिगम्बर जाधव, हिफाजत अली, शैलेन्द्र वर्मा, नानकराम पाटील, महेन्द्र वर्मा, आनंदी, लतेस तोमर, राजेन्द्र पांजरे की मुख्य भूमिका रही। यह जानकारी बुधवार शाम को कंट्रोल में आयोजित पत्रकार वार्ता मे पुलिस अधीक्षक मनोज शर्मा व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल खांडेल ने दी।

पूरे आरोपियों की हो गिरफ्तारी…
पत्रकारवार्ता के बाद धरना स्थल पर अनिश्चितकालीन धरने पर बैठी श्रीमति मीना पुंडगे को जब पत्रकारों ने बताया कि पुलिस प्रशासन द्वारा एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है तो उन्होंने कहा कि जब तब पूरे आरोपियों को एवं जिन्होंने यह षडयंत्र रचा है उनकी गिरफ्तारी नहीं होगी जब तक मेरा अनिश्चितकालीन धरना जारी रहेगा।

सीएसपी, टीआई पहुंचे धरना स्थल पर…
बुधवार शाम पत्रकार वार्ता के बाद सीएसपी अभिषेक दीवान व मोघट थाना प्रभारी रविन्द्र यादव धरना स्थल पर पहुंचे और उन्होंने स्व. सुशील पुंडगे की धर्मपत्नि मीना पुंडगे को पुलिस गिरफ्त में आए आरोपी की जानकारी दी एवं अन्य आरोपियों शीघ्र से शीघ्र गिरफ्तार करने की बात कहीं। साथ ही धरना समाप्त करने की बात भी कहीं और कहा कि घटना के साथ ही पुलिस प्रशासन पुरी मुस्तैदी से हत्यारों को पकडऩे में लगा हुआ था इसी बीच शहर में कोई और घटना न हो इसलिए कफ्र्यू लगाया गया था। कफ्र्यू के कारण हत्यारों तक पहुंचने में विलंब हुआ। पुलिस लगातार हत्यारों की तलाश में जुटी रही और मुख्य आरोपी पकड़ लिया गया है और अन्य आरोपी भी शीघ्र ही गिरफ्तार कर लिए जायेंगे एवं उन्होंने श्रीमति पुंडगे से धरना समाप्त करना का अनुरोध जिस पर श्रीमति पुंडगे ने कहा कि जब तक पूरे आरोपी पकड़े नहीं जाते तब तक यह धरना अनिश्चितकालीन रूप से जारी रहेगा। अन्य महिलाओं ने भी मीना का समर्थन करते हुए कहा कि लगातार हमले हो रहे है पुलिस हाथ पर हाथ धरे हुए बैठी है। स्थिति यह बन गई कि महिलाओं को अनिश्चितकालीन धरने पर बैठना पड़ा तब पुलिस ने अपनी सक्रियता दिखाई।

बोहरा समाज, महिला संगठन एवं स्कूली बच्चों ने व्यक्त की संवेदना…
बुधवार को धरना स्थल पर बोहरा समाज ने पहुंचकर पीडि़त परिवार एवं धरने पर बैठी महिलाओं से अपनी संवेदना व्यक्त की समाजनों ने बताया कि हम सभी  के लिए अत्यंत दुख व शोक का सबब है कि ईश्वर ने एक मिलनसार एवं सज्जन व्यक्तित्व के धनी सुशील कुमार को हमारे बीच से अपनी शरण में बुला लिया। संपूर्ण बोहरा समाज इस दुख की घड़ी में ईश्वर से प्रार्थना करता है कि मृतक के परिवार को दुख हेतु धैर्य एवं सब्र प्रदान करें। बुधवार को बोहरा समाज के साथ महिला संगठनों एवं स्कूली बच्चों ने भी धरना स्थल पर पहुंचकर अपनी संवेदना पीडि़त परिवार एवं धरने पर बैठी महिलाओं  के साथ व्यक्त की।
 
स्व. सुशील की पत्नि द्वारा दिए जा रहे धरने में विधायक के साथ पहुंचे भाजपा पदाधिकारी
 बुधवार धरना स्थल पर विधायक देवेन्द्र वर्मा, सुभाष कोठारी, राजेश डोंगरे, पुरूषोत्तम शर्मा, सुनील जैन, हरिश कोटवाले, दिनेश पालीवाल सहित भाजपा के पदाधिकारी पहुंचे और बैठकर सुशील पुंडगे के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त करते हुए स्व. सुशील की धर्मपत्नि मीना पुंडगे से चर्चा कर उन्हें आश्वस्त किया कि खंडवा पुलिस प्रशासन के साथ ही मध्यप्रदेश शासन व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भी पूरी घटना की जानकारी है और वे सतत संपर्क बनाये हुए है। पुलिस प्रशासन के अनुसार शीघ्र अतिशीघ्र हत्यारों को बेनकाब किया जायेगा। प्रवक्ता सुनील जैन ने बताया कि सांसद नंदकुमार सिंह चौहान, विधायक देवेन्द्र वर्मा लगातार खंडवा में घटित संपूर्ण घटना की जानकारी से भोपाल शासन-प्रशासन को अवगत करा चुके है और मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के भी संपर्क में है।  विधायक वर्मा ने कहा कि घटना को लेकर मैं मंगलवार को भोपाल में था और अधिकारियों  के साथ मुख्यमंत्री चर्चा की श्री वर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री की अनुसूचित जाति वर्ग की योजना के अंतर्गत इस प्रकार की घटना में मृतक के परिजनों को पांच लाख रूपये की राशि के साथ ही सरकार नौकरी दिए जाने का प्रावधान है हम कोशिश करेंगे कि सुशील की धर्मपत्नि को ज्यादा से ज्यादा सहायता दिलाकर उन्हें सरकारी नौकरी दिलाई जाये। श्री वर्मा ने पत्रकारों को बताया कि खंडवा शहर की आबादी लगभग तीन लाख हो चुकी और दो थानों व अन्य चौकियों के भरोसे पूरा शहर है। मेरी मांग के अनुसार शीघ्र ही पदमनगर चौकी को थाना बनाया जायेगा और अन्य दो-तीन चौकियों की भी स्वीकृति गृह मंत्रालय से हो चुकी है। शीघ्र ही वित्त विभाग इसकी मंजूरी प्रदान करेगा।
 
 हिन्दू संगठन करेंगे विरोध प्रदर्शन
खंडवा नगर एवं जिले में हो रही हिन्दू विरोधी घटनाओं एवं प्रशासन की अक्षमता को लेकर विरोध प्रदर्शन स्वरूप समस्त हिन्दू संगठनों के व्यक्ति 14 अगस्त दोपहर 3.00 बजे माता चौक से प्रारंभ होकर इंदिरा चौक, बड़ा पुल, बस स्टेण्ड, बांबे बाजार होते हुये श्रीमति मीना पुंडगे के धरना स्थल तक पहुंचेंगे तथा यहां पर यह प्रदर्शन एक जनसभा के रूप में समाप्त होगा।

loading...
Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com