shiv-sena-saamna-bjp_नई दिल्ली – शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में आम आदमी पार्टी (आप) और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा है। पार्टी में चल रहे कलह के बीच शिवसेना ने सामना के संपादकीय में लिखा है, ‘हमाम में सब नंगे हैं, अब ‘आप’ ने भी कपड़े उतार दिए हैं। केजरीवाल और उनकी पार्टी का स्वागत है।’

‘सामना’ ने आम आदमी पार्टी (आप) के कामकाज पर वार करते हुए कहा है कि पार्टी अपने सरकार के कामकाज की बजाए राष्ट्रीय धूल फें‍क के चलते सुर्ख‍ियों में बनी है। शिवसेना ने कहा है कि जबसे केजरीवाल बेंगलुरु से लौटे हैं, उनकी ‘खोखली खांसी’ चली गई है। इसके चलते उन्होंने खोखले के बदले ‘यला ठोका, त्यला ठो यानी इसको ठोका, उसको ठोका का उद्योग शुरू किया है। इसे देखते हुए ये कहना पड़ेगा कि केजरीवाल राजनीति की मुख्यधारा में शामिल हो चुके हैं।

‘सामना’ ने आम आदमी पार्टी (आप) की तुलना जनता पार्टी से की है और लिखा है कि इंदिरा गांधी को पराभूत कर सत्ता में आई जनता पार्टी के नसीब में जिस तरह विभाजन का भोग आया, आज उसी दुर्दशा का शिकार केजरीवाल हो रहे हैं।’

शिवसेना ने कहा है कि वो पारदर्शी कामकाज की कितनी भी डींगे हांक लें, परंतु इस सच्चाई से कोई इंकार नहीं कर सकता है कि योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण को उन्होंने जिस तरीके से पार्टी द्रोही करार देकर निकाला वो पूरा मसला बेहद गंभीर है।

शिवसेना ने सामना में लिखा है कि दिल्ली की जनता ने भारी अपेक्षा से आम आदमी पार्टी (आप) को सत्ता सौंपी है, लेकिन ‘आप’ ने भी राजनीति में अपने कपड़े उतार दिए है, इतनी ही बात है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here