प्रगति की दौड़ में ये मेरी शुरूआत, अभी और दौड़ना है मुझे- मोदी

0
15

लखन‌ऊ‌: यह ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी नहीं रिकॉर्ड ब्रेकिंग सेरेमनी है। आज का आयोजन यूपी के प्रति बढ़ते विश्वास का प्रतीक है, 60 हज़ार करोड़ का इंवेस्टमेंट कम नही हैं, यू‌‌पी सरकार ने अदभुद काम किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने औद्योगिक मंत्री सतीश महाना और उनके अधिकारियों की जमकर सराहना की।

पीएम मोदी ने 60228 करोड़ की 81 निवेश परियोजनाओं का भूमिपूजन करते हुए उनकी आधारशिला रखी।

एक संवेदनशील सरकार की जिम्मेदारी लोगों को सरल और सुगम रुप से जीने कर दो मुहैया कराना होना चाहिए और इसी क्रम में हम निरंतर 4 साल से लगातार काम कर रहे हैं और आज हम लखनऊ के सभागार में जुटाना भी एक इसी कड़ी का हिस्सा है।

कल भी मुझे लखनऊ शहरों के विकास की समृद्धि के लिए जुड़ी योजनाओं का शिलान्यास करने का मौका मिला था, अब मुझे प्रसन्नता है कि आज उत्तर प्रदेश के कोने-कोने को ट्रांसफार्म करने परिवर्तन लाने के लिए यहां हम सब मिलकर के संकल्प करके आगे बढ़ने के दिशा में प्रबुद्ध है साथियों 5 महीने में यह दूसरी बार जब उद्योग जगत के साथियों के साथ मैं लखनऊ में रहता हूं इससे पहले मैं फरवरी में इन्वेस्टर समिट में आया था और मुझे जानकारी दी गई है कि यूपी में 4 लाख करोड़ निवेश की संभावना जताई गई थी मुझे प्रसन्नता है कि उस संकल्प को जमीन में उतारने के लिए इस कड़ी में आज एक बहुत बड़ा कदम उठाया जा रहा है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा की मैं लंबे अरसे से मुख्यमंत्री रह कर आया हूं और औद्योगिक गतिविधियों से जुड़े राज्य से होकर आया हूं मैं जानता हूं कि 60000 करोड़ कम नहीं होता है , आप लोगों ने कितना बड़ा काम किया है आप लोगों ने अकल्पनीय काम किया है। आप की पूरी टीम बधाई की पात्र हैं। मैं किसानो को भी बधाई देता हु की उन्होने साथ दिया। यह बड़ी सफलता है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा की मुझे खुशी है कि आपने अलग-अलग सेक्टर के लिए अलग-अलग पॉलिसी बनाई , यह पॉलिसी ड्रिवन स्टेट उत्तर प्रदेश की सबसे बड़ी सिद्धि है , कृपा कर के 60 हज़ार करोड़ को कम मत मानिए , आप ने अद्भुत किया है । लेकिन राज्य के लिए प्रतिबद्धता होती है तो रास्ते भी निकलते है । प्रधानमंत्री मोदी ने कहा की मुझे खुशी है कि मुख्यमंत्री ने सर्वांगीण विकास का ध्यान दिया है । केवल नोएडा से ही काम पूरा नही होगा , पूरे प्रदेश का विकास होना जरूरी है ।

यह ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी नहीं रिकॉर्ड ब्रेकिंग सेरेमनी है। मैं मानता हूं पहले ऐसा उत्तर प्रदेश में मैं नहीं मानता कि पहले ऐसा किसी ने किया होगा। मुझे पता है कि योगी जी के नेतृत्व में सरकार ने निवेशकों से लगातार संबंध बनाए रखें और लगातार माहौल तैयार किया।

एक समय था जब यूपी में निवेश को चुनौती मानते थे आज वह चुनौती अवसरों के रूप में सामने आई है। आज का आयोजन यूपी के विकास का प्रतीक है। जिस स्पीड से आप आगे बढ़ रहे हैं मेरी आत्मा कह रही है कि 1 बिलियन इकॉनॉमी पार करने की आपको ज्यादा समय नहीं लगेगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा की हम वह नहीं है जो उद्योग पतियों के साथ खड़े होने में शर्म महसूस करते हो। अमर सिंह बैठे हैं उन से पूछिए सब जानते हैं।प्रधानमंत्री मोदी ने कहा की आज जो भी काम हो रहा है। इस से 2,00,000 लोगों को रोजगार मिलेगा, इससे सभी को रोजगार मिलेगा मैंने उत्तर प्रदेश की जनता से वादा किया था कि मैं आपसे प्यार का ब्याज सहित वापस करूंगा।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा की प्रगति की दौड़ में ये मेरी शुरूआत है अभी और दौड़ना है मुझे।
ये ‘ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी’ ना होकर ‘रिकॉर्ड ब्रेकिंग सेरेमनी’ है, एक समय था जब यूपी में निवेश को लोग चुनौती मानते थे लेकिन अब इसे अवसर मानते है, आज का आयोजन यूपी के प्रति बढ़ते विश्वास का प्रतीक है, यहां पहले की सरकार की उद्योगपतियों के साथ एक फोटो नही होगी क्योंकि सब कुछ पर्दे के पीछे होता था, घर पर जाकर उद्योगपति साष्टांग प्रणाम करते थे, यहां अमर सिंह बैठे है उनको पूरी जानकारी है इसकी, जब नीयत साफ हो तो किसी के साथ खड़े होने में कोई परेशानी नही होनी चाहिए।

सीएम योगी ने कहा की बसपा के शासनकाल में पूरे 5 साल में यूपी में 57 हजार करोड़ का निवेश आया था, सपा सरकार के 5 साल में 50 हजार करोड़ का निवेश आया था लेकिन अब महज 1 साल के अंदर 4 लाख 68 हजार करोड़ के एमओयू साइन होकर अगले 5 महीने में 60 हजार करोड़ से ज्यादा की निवेश परियोजनाओं का शुभारंभ हो रहा है, आगे भी 50 हजार करोड़ की परियोजनाएं पाइपलाइन में है उन्हें भी जल्द मूर्तरूप देंगे, पश्चिमी यूपी में 51 फीसदी, पूर्वांचल में 23 फीसदी, मध्य यूपी में 22 फीसदी और बुंदेलखंड में 4 फीसदी निवेश परियोजनाओं की शुरुआत हो रही है, एक समय था जब मार्च 2017 से पहले बहुत सारे निवेशक यूपी से बाहर जाने को तैयार थे लेकिन आज यूपी में ऐसा माहौल है कि चाहे वो सैमसंग हो, एलजी हो या अन्य कोई निवेशक कंपनी, कोई भी यूपी से बाहर नही जाना चाहता है ।

सीएम योगी ने कहा की आप सभी को इलाहाबाद कुंभ 2019 के लिए और वाराणसी में आयोजित होने वाले 15वें प्रवासी भारतीय सम्मेलन के लिए आमंत्रित करता हूं।

@शाश्वत तिवारी