Home > India > डिजिटल युग में का बढ़ता अन्धविश्वास

डिजिटल युग में का बढ़ता अन्धविश्वास

डिंडौरी : डिजिटल युग में गाँव में बढ़ता अंधविस्वास एक बड़ी बीमारी है। जहाँ देवी देवता के नाम पर भोली भाली जनता ठगी जाती है। ऐसा ही मामला दूधी मंझोली में सामने आया है जहाँ एक परिवार में कथित कन्या पर वैष्णवी देवी सवार हो गई। गाँव में खबर आग की तरह फैल गई,चमत्कार का ढोंग फ़ैलाने के लिए पम्पलेट भी छपवाये गए।हैरत तो इस बात की है कि दूर दूर से ग्रामीण अपनी समस्या और बीमारी को लेकर गाँव पहुँचने लगे।

ग्रामीणों की माने तो जिस कथित कन्या पर वैष्णवी सवार हुई थी उसे तांत्रिक ने बस में कर लिया,जिसे छुड़ाने और बचाने के लिए उसी परिवार की अन्य बहनो को भी देवी देवता सवार हो गए,फिर क्या था भक्तो की समस्या दूर करने अवतरित हुई वैष्णवी खुद समस्या में घिर गई,जिसे कथित तांत्रिक से मुक्त करवाने के लिए दूर दूर से अपनी समस्या और बीमारी को लिए ग्रामीण मंत्रो के उच्चारण करने में जुट गए।

ये अंधविस्वास का यह खेल गाँव में दिन भर चलता रहा जहाँ गाव के ग्रामीण और दूर दूर से विस्वास का भाव लेकर पहुँचे लोग एक बार फिर ठगे गए। न तो तांत्रिक पकड़ाया,न ही वैष्णवी का चमत्कार ग्रामीणों को देखने को मिला,बस खर्च हुआ तो लोगो की ऊर्जा,समय,और आने जाने में पैसा।

रिपोर्ट @दीपक नामदेव

Copyright @teznews.com. Designed by Lemosys.com